जागरण संवाददाता, देहरादून। बढ़ती महंगाई के खिलाफ उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकर्ताओं ने रविवार को द्रोण चौक पर केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। उन्होंने कहा कि सौ दिन में महंगाई कम करने का वादा करने वाली मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में भी दिनोंदिन महंगाई बढ़ती जा रही है। पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं। जनता त्रस्त है, लेकिन सरकार मूकदर्शक बनी हुई है। 

दल के पदाधिकारियों का कहना था कि केंद्र व राज्य में जब भी भाजपा की सरकार बनी है, तब-तब महंगाई अपने चरम स्तर पर पहुंची है। यह कहीं न कहीं सरकार का गरीब विरोधी चरित्र है। उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण एक ओर जनता आर्थिक तंगी व बेरोजगारी से जूझ रही है। वहीं, दूसरी तरफ महंगाई की मार से लोग बेहाल हैं। पेट्रोल व डीजल के दाम बढ़ने से खाद्य पदार्थों की कीमतें भी लगातार बढ़ रही हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार गरीब की थाली से निवाला छीन रही है। महंगाई पर रोक लगाने के लिए कोई भी कदम नहीं उठाए जा रहे हैं, जिसका जवाब जनता चुनाव में देगी। इस मौके पर महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी, जय प्रकाश उपाध्याय, लताफत हुसैन, अशोक नेगी, वीरेंद्र रावत, जबर सिंह पावेल, प्रेम सिंह, हेमंत नेगी, दिनेश नेगी, पीयूष सक्सेना, किरण रावत, मीनाक्षी सिंह, रूबी खान आदि शामिल रहे।

बढ़ती महंगाई पर व्यापारियों ने जताई चिंता

बढ़ती महंगाई पर व्यापारी वर्ग ने चिंता जताई है। उनका कहना है कि डीजल व पेट्रोल के दाम जिस प्रकार हर रोज बढ़ते जा रहे हैं, उससे महंगाई चरम पर पहुंच रही है। इससे छोटे व्यापारियों को भारी नुकसान हो रहा है। यह बातें व्यापारियों ने पूर्व विधायक राजकुमार के त्यागी रोड स्थित कार्यालय में रविवार को हुई दून महानगर व्यापार प्रकोष्ठ की बैठक में कहीं। 

महानगर व्यापार प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सुनील कुमार बांगा ने कहा कि आम जनता के साथ ही छोटे व्यापारी भी महंगाई की मार झेल रहे हैं। डीजल 80 व पेट्रोल 88 ऊपर पहुंचने से मालभाड़ा बढ़ गया है। व्यापारी सामान की कीमत नहीं बढ़ा सकते हैं। ऐसे में लागत मूल्य भी वसूल नहीं हो पा रहा है। थोक मार्केट से हर वस्तु महंगी मिल रही है। दुकानदारों को सामान बेचने व खरीदारों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। 

छोटे सवारी वाहनों का किराया भी बढ़ गया है। व्यापारिक प्रतिष्ठानों में आमदनी बहुत कम हो गई और घर का खर्चा तीन गुना बढ़ गया है। रसोई गैस से लेकर दालें, तेल, चीनी, कॉस्मेटिक उत्पाद सभी महंगे हो चुके हैं, जिससे गृहणियों को घर चलाने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। व्यापारियों ने केंद्र सरकार से मांग की है कि डीजल व पेट्रोल के दाम कम करें, ताकि जनता को कुछ राहत मिले सके। व्यापारियों ने स्मार्ट सिटी कंपनी से बाजार में चल रहे निर्माण कार्य जल्द पूरे करने का आग्रह किया। बैठक में व्यापारी शेखर कपूर, सोनू फ्रांसिस, योगेश भटनागर, नदीम बैग, चरन सिंह, रवि फुकेला, प्रवीन अरोड़ा, राजेंद्र सिंह, नेगी, मेहताब आलम, राम कपूर आदि मौजूद रहे। 

भाजपा राज में आम आदमी का जीना मुश्किल

आम आदमी पार्टी के नेता रविंद्र जुगरान ने देश में बढ़ती महंगाई पर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के राज में आम आदमी का जीना मुश्किल हो गया है। गैस, पेट्रोल, डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं। उन्होंने भाजपा को चेताते हुए कहा कि अगर सरकार ने महंगाई पर नियंत्रण नहीं किया तो आप सड़कों पर उतरकर आंदोलन करेगी। 

महंगाई के विरोध में महिला कांग्रेस का प्रदर्शन 

लगातार बढ़ती महंगाई के विरोध में मसूरी में महिला कांग्रेस ने रविवार को प्रदर्शन करते हुए केंद्र सरकार का पुतला दहन किया और जमकर नारेबाजी की। महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष जसबीर कौर के नेतृत्व में महिला कांग्रेसियों ने गांधी चौक से आंबेडकर चौक तक जुलूस निकाला। इस मौके पर जसबीर कौर ने कहा कि केंद्र सरकार गरीब विरोधी हो गई है। पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम बढऩे से आम आदमी का जीना मुहाल हो गया है। खाने-पीने के सामान की कीमतें भी आसमान पर पहुंच गई हैं। प्रदर्शन में बीना, सुनिता, संतोष बौंठियाल, मधु, भारती, सुनीता, संगीता, भरोसी रावत आदि शामिल रहीं।

यह भी पढ़ें- भाजपा प्रदेश अध्‍यक्ष बंशीधर भगत आज से इन विधानसभा क्षेत्रों का करेंगे दौरा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप