Move to Jagran APP

Uttarakhand News: नियुक्ति को सड़क पर उतरे एलटी चयनित व तकनीकी प्रशिक्षित, किया मुख्यमंत्री आवास किया कूच

Uttarakhand News आज एलटी चयनित व तकनीकी प्रशिक्षित नियुक्ति के ल‍िए सड़क पर उतरे। बेरोजगारों ने सरकार के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री आवास कूच किया। पुलिस ने हाथीबड़कला में रोका तो वहीं धरने पर बैठ गए।

By Jagran NewsEdited By: Sunil NegiPublished: Mon, 17 Oct 2022 10:03 PM (IST)Updated: Mon, 17 Oct 2022 10:03 PM (IST)
Uttarakhand News: नियुक्ति को सड़क पर उतरे एलटी चयनित व तकनीकी प्रशिक्षित, किया मुख्यमंत्री आवास किया कूच
Uttarakhand News: एलटी चयनित अभ्यर्थियों और तकनीकी प्रशिक्षितों ने सड़क पर उतर कर सरकार से नियुक्ति देने की मांग की।

जागरण संवाददाता, देहरादून : Uttarakhand News: एलटी चयनित अभ्यर्थियों और तकनीकी प्रशिक्षितों ने सड़क पर उतर कर सरकार से नियुक्ति देने की मांग की। आक्रोशित बेरोजगारों ने सरकार के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए करीब एक किलोमीटर पहले हाथीबड़कला बैरिकेडिंग पर रोक लिया। यहां पर बेरोजगारों ने खूब हंगामा किया। इसके चलते पुलिस से उनकी तीखी झड़प भी हुई।

loksabha election banner

सड़क पर धरने पर बैठे

आगे बढ़ने में कामयाब नहीं होने पर बेरोजगार बैरिकेडिंग के समक्ष ही सड़क पर धरने पर बैठ गए। करीब पौन घंटे तक प्रदर्शन और हंगामा नहीं थमा तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करना शुरू कर दिया। पुलिस अपने वाहनों में कई एलटी चयनित अभ्यर्थियों को बिठाकर रिजर्व पुलिस लाइन ले गई, जहां से बाद में उन्हें निजी मुचलके पर छोड़ दिया गया।

बदसलूकी और पिटाई करने का आरोप

प्रदर्शनकारियों ने गिरफ्तारी के दौरान पुलिस पर महिलाओं के साथ बदसलूकी और पिटाई करने का आरोप लगाया है। उधर, एलटी चयनित अभ्यर्थियों को गिरफ्तार करना शुरू किया गया तो तकनीकी प्रशिक्षित धरना-प्रदर्शन समाप्त कर स्वयं वापस लौट गए।

बैठे हैं शिक्षा निदेशालय में धरने पर

एलटी (सहायक अध्यापक) चयनित अभ्यर्थी अपनी नियुक्ति की मांग को लेकर पांच सितंबर 2022 से ननूरखेड़ा स्थित शिक्षा निदेशालय में धरने पर बैठे हैं। दो दिन पहले उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने पूर्व में कराई गई जिन आठ भर्ती परीक्षाओं को रद करने की सिफारिश सचिव कार्मिक से की, उनमें एलटी की लिखित परीक्षा भी शामिल है। यह परीक्षा भी पेपर लीक प्रकरण में शामिल कंपनी आरएमएस टेक्नो साल्यूशंस ने कराई थी।इसीलिए आयोग ने इसे रद करने की सिफारिश की है।

मुख्यमंत्री आवास के लिए किया कूच

आयोग के इस कदम से एलटी चयनितों का पारा और चढ़ गया। विरोध में सोमवार को वह गांधी पार्क में एकत्र हुए और दोपहर करीब पौने एक बजे वहां से रैली के रूप में मुख्यमंत्री आवास के लिए कूच किया। अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया कि सरकार के आदेश पर पुलिस-प्रशासन ने जबरन अभ्यर्थियों को उठाया।

महिला अभ्यर्थियों को भी पुलिस वैन में डाला गया। आरोप लगाया कि पुलिस-प्रशासन ने कुछ महिला अभ्यर्थियों की पिटाई भी की। इसके बाद सभी चयनित अभ्यर्थियों ने अपनी गिरफ्तारी दी। मुख्यमंत्री आवास कूच करने वालों में अंकित डंगवाल, हरीश बंगवाल, नवीन कुनियाल, महावीर सिंह, प्रीतम सिंह, विनय जमलोकी, संगीता भंडारी, मनोज, सोनू जोशी, रितेश सिंह, सविता सजवाण आदि शामिल रहे।

सिंचाई विभाग के 228 पदों को भर्ती में शामिल करने की मांग

दोपहर करीब एक बजे उत्तराखंड बेरोजगार संघ के बैनर तले तकनीकी प्रशिक्षत बेरोजगारों ने भी नियुक्ति की मांग को लेकर परेड ग्राउंड से मुख्यमंत्री आवास के लिए कूच किया। हाथीबड़कला में रोके जाने के बाद संघ के अध्यक्ष बाबी पंवार ने कहा, संयुक्त कनिष्ठ अभियंता भर्ती 2021 की विज्ञप्ति जारी हुए तीन महीने हो चुके हैं, मगर भर्ती प्रक्रिया अब तक शुरू नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें:- Uttarakhand News: मुख्यमंत्री आवास कूच कर रहे आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ता को पुलिस ने रोका, सड़क पर बैठकर दिया धरना

उन्होंने कहा, तकनीकी प्रशिक्षितों की मांग है कि भर्ती प्रक्रिया शीघ्र शुरू करने के साथ इसमें सिंचाई विभाग में कनिष्ठ अभियंता के 228 पदों को भी शामिल किया जाए। इन पदों को विज्ञप्ति जारी होने से एक दिन पहले हटा दिया गया था। बताया कि इसी मांग को लेकर प्रशिक्षित दो अक्टूबर से अनशन पर बैठे हैं। अब तक तीन अनशनकारियों की तबीयत बिगड़ चुकी है, लेकिन सरकार उनकी सुध नहीं ले रही। इस मौके पर संदीप उनियाल, विकास पंवार, संजय नेगी, मनोज सरियाल, राहुल तोमर, अतुल शिवानी, आरती आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें:- लंबित मांगों को लेकर राज्य आंदोलनकारियों ने किया सीएम आवास कूच


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.