जागरण संवाददाता, देहरादून।  HIGHLIGHTS Uttarakhand COVID 19 Cases News कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रदेशभर में कर्फ्यू जरूर लगाया गया है, पर सख्ती नदारद और कर्फ्यू सिर्फ नाम का रह गया है। सुबह बाजार में भारी भीड़ जुट रही है। वहीं आमजन की आवाजाही भी कम नहीं हो रही है। स्थिति ये है कि तमाम प्रतिबंध के बाद भी न संक्रमितों की संख्या कम हुई और न मौत का सिलसिला थमा है। हालात संभलने के बजाए और ज्यादा बिगड़ते जा रहे हैं। गुरुवार को प्रदेश में कोरोना के 8517 मामले आए हैं। यह एक दिन में संक्रमितों की अब तक की सर्वाधिक संख्या है। इधर, कोरोना संक्रमित 151 मरीजों की मौत भी हुई है। यह एक दिन में मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा है। राज्य में सक्रिय मामले भी अब 62 हजार से ऊपर हैं।

स्थिति की भयावहता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि अप्रैल में जितने लोग संक्रमित हुए उसके करीब पचास फीसद मामले पिछले छह दिन में आ चुके हैं। बीते छह दिन में 39830 लोग संक्रमित हुए हैं, जबकि अप्रैल माह में नए मरीजों की संख्या 80110 रही थी। वहीं, मौत का आंकड़ा और भी ज्यादा भयावह है। अप्रैल में 907 मरीजों की मौत हुई थी। यह अब तक एक माह में हुई सर्वाधिक मौत हैं।

चिंता इस बात की है कि इस संख्या का करीब 74 फीसद, यानी 669 लोग पिछले छह दिन में अपनी जान गंवा चुके हैं। बता दें कि अब तक प्रदेश में कोरोना के दो लाख 20 हजार 351 मामले आए हैं, जिनमें एक लाख 49 हजार 489 स्वस्थ हो गए हैं। फिलवक्त 62911 सक्रिय मामले हैं, जबकि 3293 मरीजों की अब तक मौत भी हो चुकी है।

ये रही स्थिति

जनपद-जांच-मामले-संक्रमण दर (फीसद)

अल्मोड़ा:1313-229-17.44

बागेश्वर:1480-109-7.36

चमोली:1210-348-28.76

चंपावत:1328-276-20.78

देहरादून:9936-3123-31.43

हरिद्वार:7882-1045-13.25

नैनीताल:2594-847-32.65

पौड़ी गढ़वाल:925-413-44.64

पिथौरागढ़:1104-212-19.20

रुद्रप्रयाग:1369-140-10.22

टिहरी गढ़वाल:885-256-28.92

ऊधमसिंहनगर:3634-1130-31.09

उत्तरकाशी:2075-389-18.74

कुल जांच-35735

पॉजिटिव-8517

निगेटिव-27218

रिकवरी-4548

रिकवरी दर-67.84 फीसद

मसूरी में 113 लोग संक्रमित, 110 ने लगवाया टीका

उपजिला चिकित्सालय में बुधवार को 70 लोग के एंटीजन टेस्ट किए गए, जिनमें से 13 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसके अलावा 30 अप्रैल से चार मई के बीच जो आरटीपीसीआर सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे, उसमें सौ लोग संक्रमित मिले हैं। अस्पताल के कोविड नोडल अधिकारी डा. प्रदीप राणा ने बताया कि 50 और लोग के सैंपल जांच को भेजे गए हैं। इनकी रिपोर्ट एक-दो दिन में आने की उम्मीद है। उन्होंने बताया कि अस्पताल में 19 ऑक्सीजन बेड हैं, जिनमें 14 में मरीज भर्ती हैं। इसके अलावा शहर के वैक्सीनेशन सेंटरों पर 110 लोग ने टीका लगवाया। 

महापौर गामा कोरोना संक्रमित

शहर में स्मार्ट सिटी के कार्र्यों और सैनिटाइजेशन के कार्य का लगातार निरीक्षण कर रहे महापौर सुनील उनियाल गामा भी कोरोना संक्रमित हो गए। उन्होंने सर्दी-जुकाम व बुखार की शिकायत पर मंगलवार को परिवार के साथ कोरोना टेस्ट कराया था। बुधवार को मिली रिपोर्ट में महापौर संक्रमित पाए गए, जबकि परिवार के बाकी सदस्यों की रिपोर्ट निगेटिव आई। महापौर को आरोग्यधाम अस्पताल में भर्ती कराया गया है। फिलहाल महापौर की स्थिति स्थिर बताई जा रही। 

नगर निगम में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पहले नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी, फिर वित्त नियंत्रक व कईं अन्य कार्मिकों को कोरोना संक्रमण हुआ। अब महापौर गामा भी संक्रमित हुए हैं। बताया गया कि महापौर को मंगलवार की सुबह सर्दी व खांसी की शिकायत हुई तो उन्होंने खुद का कोरोना आरटीपीसीआर टेस्ट कराया। संदेह होने पर पत्नी व बच्चों का भी टेस्ट कराया। बुधवार को रिपोर्ट के बाद महापौर संक्रमित पाए गए पर परिवार के बाकी सदस्यों में संक्रमण की शिकायत नहीं मिली। सांस में तकलीफ की शिकायत पर महापौर को तत्काल अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। परिवार के बाकी सदस्यों को चिकित्सकों ने फिलहाल आइसोलेशन में घर पर ही रहने ही सलाह दी है। 

नगर आयुक्त होम आइसोलेट

नगर निगम में लगातार आ रहे संक्रमण के मामलों के बाद नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय भी होम आइसोलेशन में हैं। आयुक्त ने बताया कि पहले निगम के वित्त नियंत्रक और फिर उनके चालक को संक्रमण हुआ। इस वजह से वह आइसोलेशन में रहे, मगर अब महापौर की सूचना के बाद वह घर पर ही आइसोलेट हैं। सभी कार्य वह घर से ही निबटा रहे हैं। अगर बेहद जरूरी हो, तभी कार्यालय आ रहे। 

यह भी पढ़ें-Highlights Uttarakhand COVID 19 Cases News: उत्तराखंड में रिकॉर्ड 7783 नए मामले, 127 संक्रमितों की मौत; 59526 केस एक्टिव

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें