जागरण संवाददाता, देहरादून। फरियादी की शिकायत पर कार्रवाई न करना और उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज न करना आइएसबीटी चौकी प्रभारी को भारी पड़ गया। डीआइजी गढ़वाल ने चौकी प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है। साथ ही मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं। फरियादी इंतजार हुसैन निवासी मेहूंवाला ने बुधवार को डीआइजी गढ़वाल नीरू गर्ग से शिकायत की। उन्होंने बताया कि आइएसबीटी चौकी प्रभारी राजीव धारीवाल ने पर्याप्त आधार होने के बावजूद समय पर उनकी शिकायत नहीं सुनी और बाद में उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज नहीं किया।

आरोप लगाया कि चौकी प्रभारी ने उन पर विपक्षी से समझौते के लिए अनावश्यक दबाव भी बनाया। जांच में डीआइजी ने पाया कि मेडिकल रिपोर्ट व फोटो से प्रतीत होता है कि पीड़ित को गंभीर चोट लगी हैं। इसे गंभीरता से लेते हुए डीआइजी ने उचित धाराओं में मुकदमा दर्ज न करने के निर्देश दिए हैं।

---------- 

अवैध खनन में यूटीलिटी सीज

डोईवाला के मारखम ग्रांट के धर्मूचक्र सौंग नदी में अवैध खनन को लेकर बुधवार को तहसील टीम ने छापेमारी की। इस दौरान उन्होंने अवैध खनन से भरी एक यूटिलिटी को पकड़ा और सीज कर दिया। तहसीलदार रेखा आर्य ने बताया कि छापेमारी के दौरान वाहन चालक मौके से फरार हो गया।

---------------- 

हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से झुलसा युवक

प्रतीत नगर में घरों के ऊपर से गुजर रही हाईटेंशन लाइन की चपेट में आने से एक युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। उसे राजकीय चिकित्सालय ले जाया गया, जहां युवक की गंभीर हालत को देखते हुए उसे एम्स रेफर किया गया है। युवक टैंट का काम करता है।

इंटर कालेज रोड पर एक शादी समारोह के लिए टेंट लगाया जा रहा था। बताया जा रहा है कि वहां खाना बना रहे हलवाइयों के कहने पर रायवाला प्रतीतनगर निवासी प्रिंस टैंट की सीलिंग को ऊंचा करने के लिए छत पर चढ़ा। शाम को हुई बारिश की वजह से छत पर पानी भरा हुआ था। जैसे ही प्रिंस छत पर गया वह ऊपर से गुजर रही 11 हजार केवी की हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया। तभी एक जोरदार धमाका हुआ और वह छिटककर दूर जाकर गिरा। हादसे में प्रिंस गंभीर रूप से झुलस गया। आस-पास मौजूद व्यक्तियों ने घटना की सूचना पुलिस व 108 को दी। युवक को तुरंत राजकीय चिकित्सालय ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे एम्स ऋषिकेश के लिए रेफर कर दिया।

यह पढ़ें-Dehradun Crime News: देहरादून में कुत्ता बेचने के नाम पर ठगे दो लाख रुपये

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi