जागरण संवाददाता, देहरादून। Grade Pay Issue सरकार व पुलिस अधिकारियों की तमाम कोशिशों के बावजूद पुलिस कर्मियों के 4600 ग्रेड पे की मांग को लेकर पुलिस परिवार की महिलाएं बच्चों के साथ सड़कों पर उतर आईं। पूर्व प्रस्तावित प्रदर्शन व बैठक के तहत पुलिस परिवार की करीब 200 महिलाएं गांधी पार्क के गेट पर पहुंचीं और सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान कई राजनीतिक पार्टियों के लोग उन्हें समर्थन देने के लिए पहुंचे।

रविवार को पुलिस परिवार हाथों में तख्तियां लेकर सुबह 10 बजे गांधी पार्क के बाहर पहुंचे और नारेबाजी शुरू कर दी। हालांकि प्रदर्शन को लेकर पुलिस पहले ही अलर्ट थी, जिसके चलते एसपी सिटी सरिता डोबाल, सीओ सिटी शेखर सुयाल, सदर अनुज कुमार, सीओ रायपुर पल्लवी त्यागी, कोतवाल रितेश शाह, नेहरू कालोनी के इंस्पेक्टर राकेश गुसाईं भारी पुलिस बल के साथ मौके पर तैनात थे।

पुलिस परिवार की महिलाओं ने 'सही निर्णय लो 4600 पूर्व व्यवस्था बहाल करो सरकारÓ, 'नहीं सहेंगे अत्याचार 4600 मांगे पुलिस परिवारÓ, 'पुलिस परिवार चुप नहीं रहेगा, 4600 ग्रेड पे लेकर रहेगाÓ जैसे नारों के साथ आवाज बुलंद की। भारी बारिश के बावजूद पुलिस परिवारजनों का हौसला कम नहीं हुआ और करीब पांच घंटे तक नारेबाजी करते रहे। इस दौरान पुलिस परिवारों की ओर से सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन सौंपा गया व चेतावनी दी कि यदि 27 जुलाई को शासन में होने वाली बैठक में सकारात्मक निर्णय नहीं निकला तो वह बच्चों के साथ सड़कों पर उतर जाएंगे।

प्रदर्शन को रोकने के लिए काफी दिनों से चल रही थी कसरत

पुलिस परिवार सड़कों पर न उतरें, इसके लिए पुलिस अधिकारी काफी दिनों से कसरत में जुटेे थे। शनिवार को पुलिस महानिदेशक व एसएसपी ने पुलिसकर्मियों के नाम अपील भी जारी की थी, लेकिन पुलिसकर्मियों के परिवारों पर इसका कोई असर नहीं हुआ।

युवा कांग्रेस के नेता गिरफ्तार

पुलिस कर्मियों को 4600 ग्रेड पे देने की मांग को लेकर पुलिस परिवारों के समर्थन में पहुंचे युवा कांग्रेस के नेताओं को पुलिस ने सचिवालय कूच के दौरान गिरफ्तार कर लिया। युवा कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष संदीप चमोली के नेतृत्व में भारी संख्या में कार्यकत्र्ता गांधी पार्क के गेट पर पहुंचे। इसके बाद उन्होंने सचिवालय घेराव की योजना बनाई। गांधी पार्क से होते हुए वह घंटाघर पहुंचे और यहां से सचिवालय कूच किया। सचिवालय पहुंचने से पहले ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

दो बार सड़क जाम करने का किया प्रयास

मांग को लेकर पुलिस परिवार इतने आक्रोशित थे कि उन्होंने दो बार सड़क पर जाम लगाने का प्रयास किया। हालांकि इस दौरान जाम की स्थिति भी बनी। ऐसे में सिटी मजिस्ट्रेट कुश्म चौहान ने अपील की कि पुलिस परिवारों की शिकायत को सक्षम अधिकारी तक पहुंचाया जाएगा। जाम के कारण एंबुलेंस सहित कई वाहन फंस गए हैं, इसलिए तुरंत सड़कों से हट जाएं। सिटी मजिस्ट्रेट के कहने पर पुलिस परिवार सड़क से हटे।

पुलिस परिवारों को समर्थन देने पहुंचे संगठन

4600 ग्रेड पे की मांग को लेकर सड़कों पर उतरे पुलिस परिवारों को समर्थन देने के लिए कई संगठन गांधी पार्क के बाहर पहुंचे। इनमें सुराज सेवा दल, सचिवालय संघ, युवा कांग्रेस व यूकेडी के पदाधिकारी शामिल रहे। उन्होंने तुरंत मांग पूरी न होने पर आंदोलन की चेतावनी दी।

प्रदर्शनकारी परिवारों की कर रहे हैं पहचान

सूत्रों की मानें तो पुलिस परिवारों की पहचान शुरू हो गई है। पुलिस अधिकारी पता कर रहे हैं कि किस-किस पुलिस कर्मी के परिवार से महिलाएं प्रदर्शन करने के लिए पहुंची थीं। पता लगा है कि प्रदर्शन में पहुंचने वाले सबसे अधिक हरिद्वार जिले से थे। यहां से दो बसें भरकर आई थीं। इसके अलावा देहरादून जिले से सिटी बसों व विक्रमों से महिलाएं अपने बच्चों के साथ गांधी पार्क पहुंची।

रुद्रपुर में भी हुआ प्रदर्शन, विधायक ने दिया समर्थन

देहरादून : ग्रेड पे की मांग को लेकर रुद्रपुर में भी पुलिस परिवार की महिलाओं ने आंबेडकर पार्क में धरना-प्रदर्शन किया। आनन-फानन में पुलिस फोर्र्स मौके पर पहुंच गई और उन्हें समझाने का प्रयास किया। महिलाओं ने चेतावनी दी कि मांग पूरी न होने पर वह भूख हड़ताल भी शुरू करेंगे। पुलिस परिवार की महिलाओं के धरना-प्रदर्शन को विधायक राजकुमार ठुकराल ने भी समर्थन दिया। पुलिस कर्मचारियों के स्वजनों के धरना-प्रदर्शन की सूचना पर एसपी सिटी ममता बोहरा, एसपी काशीपुर प्रमोद कुमार, सीओ सिटी अमित कुमार मौके पर पहुंचे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में तूल पकड़ता जा रहा है पुलिसकर्मियों के ग्रेड पे का मामला, अब परिवारों ने मांगी सभा की अनुमति

Edited By: Raksha Panthri