देहरादून, [जेएनएन]: लोकगायिका राजलक्ष्मी (गुड़िया) की नॉन स्टॉप वीडियो एलबम विमोचन कार्यक्रम में गढ़वाली फिल्म इंडस्ट्री के बड़े-बड़े संगीतकार, लोकगायक, हास्य कलाकार एक छत के नीचे जुटे। 

इस मौके पर प्रसिद्ध लोकगायिका मीना राणा ने 'ओ, साहेबा..' लोकगीत से माहौल को और खास बनाया। तो राजलक्ष्मी ने भी 'कैन बजे मुरली..' गीत से सबको आनंदित किया। कलाकारों ने कहा कि संस्कृति एïवं परंपराओं को सहेजने के लिए लोकगीतों का संरक्षण जरूरी है।

हिंदी भवन में आयोजित कार्यक्रम का मुख्य अतिथि लोकगायिका मीना राणा ने दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। इसके बाद गढ़वाली फिल्म इंडस्ट्री के कलाकारों को लोकगायिका के 11 गीतों की नॉन स्टॉप वीडियो एलबम की झलक दिखाई गई। इसके बाद मुख्य अतिथि ने एलबम का विमोचन किया। 

लोकगायिका राजलक्ष्मी ने कहा कि लोकगीतों के चित्रहार लोगों में बहुत लोकप्रिय माने जाते हैं, लेकिन पिछले 15 वर्षों से नॉन स्टॉप वीडियो एलबम लॉन्च नहीं हो पाया। इसलिए उन्होंने लोकगीत के संरक्षण एवं संवद्र्धन के लिए एलबम बनाने की सोची। 

इस मौके पर निर्माता नागेंद्र प्रसाद, उफतारा के महासचिव गंभीर सिंह जायड़ा, युवा लोकगायक किशन महिपाल, हास्य कलाकार घनानंद, पूनम सती, मणी भारती, नरेंद्र रौथाण, जितेंद्र पंवार, पदम गुसाईं, धूम सिंह रावत, मीरा आर्य, संजय बिष्ट आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: इस गायिका के सुरों के कायल हुए लोग, जमकर थिरके

यह भी पढ़ें: गूंज-2018 में बॉलीवुड के गीतों की धुन पर कुमाऊंनी तड़का

यह भी पढ़ें: टाइगर श्रॉफ के बाद अब दून में शूटिंग करेंगे साउथ के सुपरस्टार महेश बाबू

By Bhanu