जागरण संवाददाता, देहरादून: 25 हजार के इनामी यूट्यूबर बाबी कटारिया को घेरने की पुलिस की रणनीति एक बार फिर फेल हो गई। गुरुवार को पुलिस उसका कोर्ट के बाहर इंतजार करती रही, बाद में पता लगा कि वह एक अक्टूबर को ही जमानत पर छूट चुका है। दो बार बी वारंट लेने के बावजूद पुलिस उसे कोर्ट में पेश नहीं कर पाई।

आवास पर कुर्की का नोटिस चस्पा

अब पुलिस ने उसके खिलाफ इनाम राशि बढ़ाने व कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस पहले ही बाबी कटारिया के गुरुग्राम स्थित आवास पर कुर्की का नोटिस चस्पा कर चुकी है।दिल्ली और देहरादून पुलिस के अपराधी बाबी कटारिया ने पिछले दिनों दिल्ली के पटियाला कोर्ट में सरेंडर किया था। जहां से उसे तिहाड़ जेल भेज दिया गया।

एक अक्टूबर को कोर्ट में क‍िया जाना था पेश

28 सितंबर को बाबी कटारिया को दिल्ली कोर्ट से जमानत मिली। वह जेल से बाहर निकल पाता, इससे पहले ही तिहाड़ जेल में देहरादून कोर्ट का बी वारंट पहुंच गया। उसे एक अक्टूबर को देहरादून की एसीजेएम कोर्ट में पेश किया जाना था, लेकिन दिल्ली पुलिस उसे पेश नहीं कर सकी। इसकी मुख्य वजह यह रही कि देहरादून कोर्ट से बी वारंट, जो दिल्ली तिहाड़ जेल भेजा गया था, वह दिल्ली पुलिस को देरी से मिला।

द‍िल्‍ली पुल‍िस को देरी से म‍िला वारंट

इसके पीछे की वजह यह रही कि नियमानुसार 150 किलोमीटर की अधिक दूरी वाली यात्रा पर किसी भी आरोपित को लाने-जाने की व्यवस्था सड़क मार्ग की जगह ट्रेन से की जाती है। वारंट दिल्ली पुलिस को देरी से मिला, जिसके कारण देहरादून आने की व्यवस्था ट्रेन से तय तिथि अनुसार नहीं की जा सकी।

सुबह ही कोर्ट पहुंच गई थी पुल‍िस

इसी दौरान कैंट कोतवाली पुलिस ने बाबी को देहरादून कोर्ट में पेश करने के लिए बी वारंट आवेदन कर दिया। कोर्ट ने बी वारंट जारी कर छह अक्टूबर को पेश करने के आदेश दिए। कैंट कोतवाली पुलिस की एक टीम वारंट तामिल करवाने के लिए दिल्ली भेजी गई। वहीं आनलाइन नोटिस भेजा गया। गुरुवार को सुबह से ही पुलिस कोर्ट पहुंच गई थी।

बाबी के खिलाफ की जाएगी कुर्की की कार्रवाई

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर के मुताबिक, बाबी कटारिया के अधिवक्ता ने एक अक्टूबर को दिल्ली कोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दाखिल की। उन्होंने एफिडेविड देकर इस बात का आश्वासन दिया कि देहरादून कोर्ट की ओर से जारी बी वारंट को तामील करते हुए बाबी कटारिया कोर्ट में हाजिर होगा। यही कारण रहा कि बाबी को जमानत पर छोड़ दिया गया, लेकिन इसके बावजूद बाबी कटारिया छह अक्टूबर को भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ है। बाबी के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही अन्य कानूनी प्रक्रिया के तहत सख्त कदम उठाए जाएंगे।

सरेंडर कर सकता है बाबी

यूट्बर जल्द दून की कोर्ट में सरेंडर कर सकता है। बताया जा रहा है कि उसने सरेंडर के लिए अर्जी दाखिल कर दी है, लेकिन वह सरेंडर कब करेगा, इसका जिक्र नहीं किया है। पुलिस उसकी गतिविधियों पर नजर बनाए है। इसके अलावा वह उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए याचिका दाखिल कर चुका है।

Youtuber Bobby Kataria : यूट्यूबर बाबी कटारिया को दिल्ली पुलिस आज देहरादून लाएगी, तिहाड़ जेल में बंद है आरोपित

Edited By: Sumit Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट