मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

ऋषिकेश, जेएनएन। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स में शनिवार को पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग के चिकित्सकों ने एक साढ़े पांच साल के बच्चे की आहार नलिका में फंसे 10 रुपये के सिक्के को सफलतापूर्वक बाहर निकालकर उसे बचा लिया। 

ज्वालापुर, हरिद्वार निवासी एक साढ़े पांच साल के बच्चे ने खेलते समय 10 रुपये का सिक्का निगल लिया, जो उसकी आहार नाल में जाकर फंस गया। परिजनों ने सूझबूझ का परिचय देते हुए उसे करीब ढाई घंटे के अंतराल में एम्स ऋषिकेश की ट्रॉमा इमरजेंसी में भर्ती कराया। 

पीडियाट्रिक सर्जरी विभाग की डा. इनोनो यहोशु व डा. मनीष कुमार गुप्ता ने बताया कि फोलिस कैथेटर (एक सिरे पर गुब्बारा लगे रबड़ के पाइप के उपकरण) को बच्चे की नाक के रास्ते आहार नाल में फंसे सिक्के के नीचे तक डाला गया, इसके बाद सीरिंज के जरिये पाइप में पानी भरकर गुब्बारे को फुलाया गया, जिसके बाद पाइप को धीरे- धीरे ऊपर खींचकर सिक्के के साथ बाहर निकाला गया।

इस मौके पर पर टीम में बाल शल्य चिकित्सा विभाग के डा. ज्ञानेंद्र, डॉ.नताशा, एनेस्थिसिया विभागाध्यक्ष डॉ. संजय अग्रवाल, डॉ. सीतू चौधरी, डॉ. देविथा आदि शामिल थे। एम्स निदेशक प्रो. रवि कांत ने इस सफलतापूर्ण कार्य के लिए बाल शल्य चिकित्सा विभाग की टीम के प्रयासों की सराहना की है। 

यह भी पढ़ें: यहां महिलाओं में बढ़ रहा है स्तन कैंसर का खतरा, जानिए

यह भी पढ़ें: हृदय रोग विशेषज्ञों की टीम ने मरीज को दी नई जिंदगी, पढ़िए पूरी खबर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप