जागरण संवाददाता, देहरादून: Dehradun Durga Puja: सिंदूर खेला रस्म के साथ ही शहर के विभिन्न क्षेत्रों में चल रहे पांच दिवसीय दुर्गा महोत्सव संपन्न हो गया। महिलाओं के भक्तिभाव के साथ सिंदूर खेल मां दुर्गा को विदाई दी और अगले वर्ष फिर आने की कामना की। पांडालों में सजे मां दुर्गा को विदा करते हुए विसर्जन किया।

विभिन्न आयोजक समिति की ओर से दुर्गाबाड़ी मंदिर बिंदाल, माडल कालोनी आराघर, श्री अभयमठ शक्तिपीठ लक्ष्मण चौक, आप्टल ऐस्टेट रायपुर, करनपुर, प्रेमनगर समेत कई पांडाल में महोत्सव मनाया गया।

यहां सजाए गए पांडला में में सुबह मां दुर्गा की आराधना की। महिलाओं ने मां दुर्गा की प्रतिमा के सम्मुख पान, सिंदूर, मिष्ठान का भोग लगाया।। इसके बाद महिलाओं ने एक दूसरे को सिंदूर लगाकर जश्न मनाया और मां दुर्गा को विदा कर मालदेवता के सौंग नदी, ऋषिकेश व हरिद्वार में विसर्जन किया।

उल्लास के साथ मनाया 100वां महोत्सव

बंगाली लाइब्रेरी पूजा समिति की ओर से करनपुर स्थित बंगाली लाइब्रेरी में दुर्गा पूजा का 100वां महोत्सव उल्लास के साथ मनाया गया। कोलकाता व दिल्ली के कलाकारों ने रंगरंग सांस्कृतिक प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध किया। दशमी पूजा के बाद सिंदूर खेला में काफी संख्या में महिलाएं उमड़ी और इस रस्म को निभाया। मां दुर्गा से सुख समृद्धि की कामना की।

मां दुर्गा की आराधना के बाद हरिद्वार विसर्जन

दूनघाटी मां दुर्गा सेवा समिति के तत्वावधान में कालिंदी एन्क्लेव में चल रहे शरदोत्सव में श्रद्धालुओं ने माता के भजनों पर रंगारंग प्रस्तुति दी। महिलाओं ने सिंदूर खेला के बाद प्रतिमा को हरिद्वार के लिए विदा कर विसर्जन किया।

भव्य माता रानी की चौकी में भजनों पर झूमे श्रद्धालु

श्री सेवा कुंज समिति एवं स्टार क्लब दशहरा समिति पटेल नगर की ओर से दशहरा पर भव्य माता रानी की चौकी में लुधियाना से आए कलाकारों ने प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध किया। प्रभु के भजनों पर देर रात तक श्रद्धालु भक्तिमय माहौल के बीच झूमते रहे।

पूर्वी पटेल नगर स्थित राम लीला पार्क में इस बार आयोजक समिति ने रावण दहन की जगह भव्य माता की रानी की चौकी और भंडारे का आयोजन किया। बुधवार शाम को श्रद्धालुओं ने माथा टेक माता का आशीर्वाद लिया।

लुधियाना के टी सीरीज कलाकार दीपक गोगना व साथियों ने सानू गगियां ने जो मौजा मां झंडेवाली लगाईंया ने, मेरे बाला जी सरकार मुझको तेरा ही सहारा है, जो राम को लाएं हैं हम उनको लाएंगे आदि भजनों की प्रस्तुति से श्रद्धालुओं को झूमने पर आतुर कर दिया।

देर रात तक चले कार्यक्रम में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने माता का आशीर्वाद लिया। समिति के मीडिया प्रभारी भूपेंद्र चड्ढ़ा ने बताया कि पहले दशहरा पर्व मैदान में होता था, जिसे बाद में पार्क बना दिया गया। ऐसे में हर वर्ष अब उल्लास के साथ माता रानी की चौकी पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस मौके पर मनोज सूरी, डिंपल सभरवाल, पंकज चांदना, प्रवीण आनंद, संजय मेहता, पवन मेंहदीरत्ता, बलजीत सिंह, गोविंद मोहन आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: Dehradun Ravan Dahan: लंकापति का अहंकार हुआ चूर, धू धू कर जला रावण; इस दौरान जमकर हुई आतिशबाजी

Edited By: Sunil Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट