संवाद सहयोगी, डोईवाला(देहरादून)। देहरादून जिले के डोईवाला कोतवाली के नकरौंदा क्षेत्र में किरायेदार की हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपित मकान मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपित ने बताया कि हाफीज खान उसकी मां पर गलत निगाह रखता था, जिस वजह से उसने उसे मौत के घाट उतार दिया।

सोमवार को डोईवाला कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कोश्यारी ने हत्याकांड का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि शनिवार 15 जनवरी को आरोपित कपिल बलोदी ने अपने ही घर में किराये पर रहने वाले हाफीज खान उर्फ बाबू पुत्र हबीब खान को रात 10:30 बजे उसके कमरे में जाकर गोली मार दी थी। अस्पताल ले जाते समय हाफिज की मौत हो गई थी। इस मामले में हाफीज के भाई की तहरीर पर पुलिस ने हत्यारोपित कपिल बलोदी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। बताया कि घटना के बाद से कपिल बलोदी फरार चल रहा था। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छह पुलिस टीमें गठित की गई थी। उन्होंने बताया कि सोमवार को पुलिस ने एसओजी की मदद से आरोपित कपिल बलोदी को देहरादून मार्ग स्थित मणिमाई मंदिर के जंगल से गिरफ्तार किया है। उसके कब्जे से एक तमंचा, एक जिंदा कारतूस तथा तीन खोखा राउंड के अलावा स्कूटी बरामद की गई है।

पूछताछ में आरोपित कपिल बलोदी ने बताया कि मृतक हफीज खान उसकी माता पर गलत नजर रखता था। जिसको मारने के लिए वह एक साल से तैयारी कर रहा था। जिसके लिए वह मौके की तलाश में था। शनिवार 15 जनवरी को जब मौका मिला तो उसने हाफिज के कमरे में जाकर तमंचे से दो गोलियां मारी और वहां से फरार हो गया।

आप का कार्यकर्त्ता था हाफीज

हफीज खान उर्फ बाबू आम आदमी पार्टी का कार्यकत्र्ता था। वह तीन माह पूर्व ही पार्टी में शामिल हुआ था, जिसको लेकर आम आदमी पार्टी के कार्यकर्त्ताओं ने पार्टी प्रत्याशी राजू मौर्य की मौजूदगी में डोईवाला स्थित विधानसभा कार्यालय में हाफीज के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी है।

यह भी पढ़ें- आनलाइन सामान खरीदने-बेचने के मामले में पाकिस्तान बार्डर से एक गिरफ्तार, चीन से भी जुड़े तार

Edited By: Raksha Panthri