जागरण संवाददाता, देहरादून। दून में कोरोना की स्थिति विस्फोटक होती जा रही है। शैक्षणिक संस्थानों से लेकर तमाम निजी व सरकारी प्रतिष्ठान भी कोरोना की चपेट में हैं। शनिवार को जिले में 1179 लोग संक्रमित मिले। यह इस साल एक दिन (24 घंटे) में संक्रमित व्यक्तियों की सर्वाधिक संख्या है। एक दिन पहले यह संख्या 1051 थी। सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि कोरोना का प्रसार किस तेज गति से हो रहा है। पिछले 17 दिन में जिले में 8874 नए मामले आए हैं। ये संख्या प्रदेश में इस दौरान आए मामलों का 42 फीसद है। 

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आमजन की लापरवाही चिंता का सबब बनी हुई है। कोरोना की दूसरी लहर चल पड़ी है और लोग बेफिक्र हैं। सार्वजनिक स्थलों पर लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं। दो गज की दूरी का भी कहीं पालन नहीं किया जा रहा। जबकि, हालात पिछले वर्ष के मुकाबले ज्यादा खतरनाक है।

अब राज्य सरकार ने कोरोना की चेन को तोडऩे के लिए रात्रि कफ्र्यू के साथ ही वीकेंड कर्फ्यू का भी एलान कर दिया है। देखना ये होता है कि ये इंतजाम कोरोना पर कितनी लगाम लगाते हैं। बता दें कि देहरादून जिले में अब तक कोरोना के 39973 मामले आए हैं। जिनमें 32073 स्वस्थ हो गए हैं। फिलवक्त 6398 सक्रिय मामले हैं। जबकि अब तक जिले में 1057 मरीजों की मौत भी हुई है। 

40,309 व्यक्तियों को लगा टीका 

कोरोना की रफ्तार के बीच प्रदेश में टीकाकरण मंद गति से चल रहा है। शनिवार को प्रदेश में 606 केंद्रों पर 40 हजार, 309 व्यक्तियों को कोरोनारोधी वैक्सीन लगी है। इनमें सबसे अधिक 39 हजार, 303 लोग 45 साल से अधिक उम्र के रहे। वहीं, 510 फ्रंटलाइन वर्कर्स व 496 स्वास्थ्य कर्मियों को भी टीका लगाया गया है। इस तरह राज्य में अब तक दो लाख, 32 हजार, 177 व्यक्तियों का पूर्ण टीकाकरण हो चुका है। वहीं 13 लाख, 19 हजार, 130 व्यक्तियों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है।

यह भी पढ़ें- Containment Zones in Dehradun: देहरादून में 30 क्षेत्रों में कोरोना 'लॉक', निरंतर बढ़ रहे हैं कंटेनमेंट जोन

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप