देहरादून, जेएनएन। जन्म प्रमाण पत्र के साथ छेड़छाड़ कर उत्तराखंड की अंडर-19 टीम में जगह बनाना क्रिकेटर स्पर्श जोशी को भारी पड़ गया। मामले में बीसीसीआइ ने स्पर्श जोशी पर दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है। अब स्पर्श जोशी दो साल तक बीसीसीआइ व क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकेंगे।

उत्तराखंड की अंडर-19 टीम में शामिल स्पर्श जोशी पर बीसीसीआइ ने दो साल का प्रतिबंध लगा दिया है। इसके लिए बीसीसीआइ ने क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड को ई-मेल के माध्यम से सूचित किया है। बीसीसीआइ की रिपोर्ट के मुताबिक स्पर्श जोशी ने उत्तराखंड और दिल्ली दो-दो जगहों से जन्म प्रमाण पत्र बनवाए हैं। 

स्पर्श ने साल 2016-17 में दिल्ली क्रिकेट बोर्ड से खेलते हुए दिल्ली नगर निगम से बना जन्म प्रमाण पत्र लगाया था। अब स्पर्श ने 2019-20 में उत्तराखंड से खेलते हुए उत्तराखंड सरकार से बना जन्म प्रमाण पत्र लगाया है। दोनों प्रमाण पत्रों में 03 अक्टूबर 2000 जन्म तिथि है।

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा के मुताबिक, बीसीसीआइ ने ईमेल भेजकर सूचित किया है। इसमें स्पर्श जोशी को जन्मप्रमाण पत्र में छेड़छाड़ में लिप्त पाया गया है। स्पर्श जोशी पर नियमानुसार दो साल का प्रतिबंध लगाया गया है।

यह भी पढ़ें: विजय हजारे ट्रॉफी: चंडीगढ़ ने असम को 21 रनों से हराया, दो मैच बारिश से धुले

अंडर-23 में 100 खिलाड़ियों ने कराया पंजीकरण

सीके नायडू वन-डे ट्रॉफी क्रिकेट टीम चयन ट्रायल के लिए अंडर-23 के 100 खिलाड़ियों ने पंजीकरण करा लिया है। जिला क्रिकेट संघ के सचिव विजय प्रताप मल्ल ने बताया कि एक अक्टूबर से दशमेश विहार स्थित एसोसिएशन के कार्यालय से पंजीकरण फार्म वितरित किए जा रहे हैं। इसमें अभी तक 120 खिलाड़ियों ने फार्म खरीदे हैं। इनमें 100 खिलाड़ियों ने पंजीकरण करा लिया है। बताया कि छह व सात अक्टूबर को शिमला बाई पास स्थित जीएसआर क्रिकेट ऐकेडमी में ट्रायल लिए जाएंगे। पंजीकृत खिलाड़ियों को रंगीन ड्रेस में आना अनिवार्य है।

यह भी पढ़ें: विजय हजारे ट्रॉफी: चंडीगढ़, असम और पुदुचेरी की शानदार जीत, अंक तालिका में बनाई बढ़त

Posted By: Bhanu

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप