देहरादून, जेएनएन। डीजल-पेट्रोल के दामों में वृद्धि के विरोध में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी कार्यकर्ताओं ने विकासनगर तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने देश की सरकार पर जनता के उत्पीड़न का आरोप लगाया। उन्होंने कच्चे तेल की कीमतों के हिसाब से डीजल-पेट्रोल के रेट तय करने की मांग सरकार से की। उन्होंने पीएम को संबोधित एक ज्ञापन भी एसडीएम विकासनगर को सौंपा।

लगातार हो रही तेल की कीमतों हुई वृद्धि से नाराज माकपा कार्यकर्ताओं ने तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि कोरोना महामारी से त्रस्त जनता को राहत देने के बजाय सरकार उनका आर्थिक शोषण कर रही है। भाजपा की केंद्र सरकार पेट्रोल व डीजल की कीमतों को ही अपना मुख्य एजेंडा बनाकर सत्ता में आई थी, इसलिए उसे तेल की कीमतों को नियंत्रित करने पर अधिक ध्यान देना चाहिए था। परंतु इसके उलट जाकर सरकार निरंतर तेल के दामों में वृद्धि कर रही है। 

उन्होंने कहा आज के समय में डीजल व पेट्रोल की कीमतों में कुछ फर्क नहीं रह गया है, दोनों एक ही मूल्य पर पहुंच गए हैं। दुनिया में इस समय क्रूड आयल की कीमतें बेहद कम होने के बावजूद देश की जनता को इतने महंगे रेट पर तेल बेचना नाइंसाफी है।

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि सरकार को क्रूड आयल की कीमतों के हिसाब से डीजल-पेट्रोल का रेट तय करना चाहिए, जिससे कोरोना महामारी से भारी आर्थिक तंगी ङोल रहे लोगों को कुछ राहत मिल सके। कार्यकर्ताओं ने केंद्र सरकार से डीजल-पेट्रोल में की गई मूल्यवृद्धि को तुरंत वापस लेने की मांग की। ज्ञापन देने वालों में वरिष्ठ नेता कमरुद्दीन, पूर्व प्रधान सुंदर थापा, माला गुरुंग, सुधा देवली, इस्लाम अली, दिलशाद अली, सत्यपाल, शमशेर, गुलाम रसूल, एनएस पंवार आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: उक्रांद ने किया तहसील में प्रदर्शन, मनमर्जी से राशन वितरण करने का लगाया आरोप

पेट्रोल मूल्य वृद्धि का सीपीआइ ने किया विरोध 

पेट्रोल, डीजल के दामों में वृद्धि के विरोध में सीपीआइ ने प्रदेशव्यापी आंदोलन किया। प्रदेश सचिव समर भंडारी ने बताया कि जिला मुख्यालय पर सीपीआइ व माकपा के सदस्यों ने मूल्य वृद्धि का विरोध किया। इस दौरान उन्होंने जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भी सौंपा। प्रदर्शन में गिरिधर पंडित, विक्रम पुंडीर समेत अन्य मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: पूर्व सीएम हरीश रावत बोले, पीएम केयर फंड में चीनी कंपनियों से लिया पैसा

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021