देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: विधानसभा का मानसून सत्र हंगामेदार रहना तय है। सरकार और सत्तापक्ष को घेरने के लिए कांग्रेस पूरी ताकत से हमला बोलेगी। राज्य की खराब माली हालत को मुद्दा बनाते हुए वित्तीय स्थिति पर श्वेत पत्र जारी करने की मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाने की तैयारी में कांग्रेस है। वहीं बिगड़ती कानून व्यवस्था ने विपक्ष को बड़ा मुद्दा थमा दिया है। 

विधानसभा का मानसून सत्र 18 सितंबर से शुरू हो रहा है। यह सत्र भले ही संक्षिप्त हो, लेकिन कांग्रेस इसे सरकार पर प्रहार करने के अचूक मौके के तौर पर देख रही है। सरकारी खजाने की खस्ताहालत और खराब वित्तीय स्थिति को कांग्रेस इस बार बड़ा मुद्दा बनाने जा रही है। 

इसी तरह कांग्रेस ने अपने तरकश में कानून व्यवस्था, उत्तरकाशी व एनआइवीएच की घटनाओं के बहाने महिलाओं पर बढ़ते अत्याचार, आपदा प्रभावित क्षेत्रों की दुर्दशा, सड़कों पर जगह-जगह गड्ढे, मलिन बस्तियों पर संकट, गन्ना किसानों को बकाया भुगतान नहीं किए जाने समेत तमाम धारदार मुद्दों को समेटा हुआ है। 

नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृद्येश ने कहा कि राज्य की वित्तीय स्थिति नाजुक है। सरकार के पास तन्ख्वाह देने को धन नहीं है। विकास कार्य ठप पड़े हैं। कर्मचारियों को सातवें वेतनमान के भत्ते और एरियर का भुगतान नहीं किया जा रहा है। डबल इंजन फेल हो चुका है। 

कांग्रेस सरकार से राज्य की वित्तीय स्थिति पर श्वेत पत्र जारी करने की मांग प्रमुखता से करेगी। पार्टी ठोस मुद्दों को उठाकर सरकार को जवाब देने के लिए बाध्य करेगी। वहीं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व चकराता विधायक प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रचंड बहुमत की सरकार जनता की परेशानियों को लगातार नजरअंदाज कर रही है। पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं, लेकिन राज्य सरकार ने आम जनता को राहत नहीं दी।

मलिन बस्तियों पर सरकार की नीतियों से संकट खड़ा हो चुका है, कांग्रेस सरकार को सदन में सच से रूबरू कराएगी। उन्होंने कहा कि सरकार विदेशों में मस्त है, जबकि आम जनता आपदा से कराह रही है। 

प्रदेश संगठन के मसलों पर कांग्रेस हाईकमान अलर्ट 

प्रदेश में सांगठनिक मुद्दों को लेकर कांग्रेस हाईकमान अलर्ट है। प्रदेश कांग्रेस की अहम समितियों की घोषणा जल्द होनी है। इनमें संसदीय समिति, समन्वय समिति, अनुशासन समिति शामिल हैं। इन समितियों के साथ ही पार्टी संगठन को मजबूत करने पर विशेष जोर दिया जा रहा है। नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश ने नई दिल्ली में कांग्रेस के नए कोषाध्यक्ष अहमद पटेल और प्रदेश प्रभारी अनुग्रह नारायण सिंह से मुलाकात की। संगठन के विषयों को लेकर जल्द ही प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा ह्रदयेश जल्द ही नई दिल्ली में पार्टी के केंद्रीय नेताओं से मुलाकात करेंगे।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बढ़ती महंगार्इ के खिलाफ फूंका केंद्र सरकार का पुतला

यह भी पढ़ें: छात्र राजनीति को दिया जाना चाहिए बढ़ावा, इसके जरिये ही सीखते राजनीति का ककहरा

यह भी पढ़ें: पहले ही दिन उड़ीं लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों की धज्जियां

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस