देहरादून, जेएनएन। नगर निगम की ओर से शहर में चलाए जा रहे विशेष सफाई अभियान के तहत शुक्रवार को सार्वजनिक स्थान पर कूड़ा फेंकने और थूकने वाले 27 लोगों के चालान किए गए। इन लोगों से 24,800 रुपये का जुर्माना भी वसूला गया। वहीं, प्रतिबंधित पॉलीथिन के प्रयोग पर 42 लोगों का चालान काट करीब सात हजार रुपये जुर्माना वसूला गया। 

विशेष सफाई अभियान के दूसरे दिन नगर निगम की टीमों ने शहर की विभिन्न सड़कों से 23 ट्राली कूड़ा उठान किया। महापौर के निर्देश पर लोक निर्माण विभाग ने भी शहर की सड़कों पर नाली निर्माण आदि के चलते बिखरे पड़े मलबे को उठाने का काम कराना शुरू कर दिया। नगर निगम के कर्मचारियों ने आइआइपी गेट से रिस्पना पुल तक और रिस्पना पुल से लेकर आइएसबीटी तक की सड़कों की सफाई की।

वहीं, आइएसबीटी से घंटाघर, घंटाघर से बल्लूपुर चौक, बल्लूपुर चौक से जीएमएस रोड व आइटीबीपी तक, घंटाघर से राजपुर रोड-कैंट रोड राजभवन तक, बहल चौक से ईसी रोड-रिस्पना पुल तक एवं बल्लूपुर चौक से प्रेमनगर पुल तक व शीशमबाड़ा प्लांट तक सड़कों की सफाई की। इस दौरान 81 कर्मचारियों ने कुल 23 ट्राली कूड़ा उठान किया। सायंकालीन शिफ्ट में भी 10 ट्राली कूड़े का उठान किया गया। नगर निगम के इंस्पेक्टरों ने गंदगी फैलाने व सड़कों पर थूकनें वालों के साथ पॉलीथिन प्रयोग करने वालों पर भी कार्रवाई की। 

एलईडी लाइट लगाने की मांग

केशर जनकल्याण समिति की ओर से नगर आयुक्त को ज्ञापन देकर शहर से जुड़े नए ग्रामीण क्षेत्रों में सोडियम स्ट्रीट लाइट के बजाए एलईडी स्ट्रीट लाइट लगाने की मांग की। समिति ने बताया कि सोडियम लाइट स्वास्थ्य व पर्यावरण के लिए हानिकारक है और इसके बल्ब बार-बार खराब होने की वजह से निगम को भी नुकसान हो रहा है। 

यह भी पढ़ें: सुपरवाइजरों के निलंबन पर निगम कर्मियों में गुस्सा, हड़ताल की चेतावनी

यह भी पढ़ें: हड़ताल पर रोडवेज कर्मियों की वार्ता विफल, सरकार ने लगाई एस्मा

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप