देहरादून, राज्य ब्यूरो। कांग्रेस की ओर से आयोजित धरने पर भाजपा ने पलटवार किया। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अजेंद्र अजय ने कहा कि व्यक्ति पूजा और व्यक्ति विशेष की प्रशस्ति पार्टी की कार्य संस्कृति में कहीं भी शामिल नहीं है। भाजपा विचार, नीति व सिद्धातों पर आधारित पार्टी है, जबकि कांग्रेस में शाही परिवार की चाटुकारिता ही उसके नीति व सिद्धात हैं। 

भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अजेंद्र ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशस्ति में एक महिला प्रशंसक की पंक्तियों को लेकर काग्रेस द्वारा विवाद का विषय बनाना तिल का ताड़ बनाने जैसा है। उन्होंने कहा कि यह न तो भाजपा और न ही सरकार का कोई आधिकारिक दस्तावेज है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वर्तमान में विश्व के सर्वाधिक चर्चित व लोकप्रिय राजनेताओं में एक हैं। उनके व्यक्तित्व एवं कार्यशैली से देश-दुनिया के लोग प्रभावित हैं। ऐसे में किसी प्रशसक की भावनाओं को प्रकट करने से नहीं रोका जा सकता। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को भाजपा पर आरोप लगाने से पहले अपना इतिहास खंगालना चाहिए।

उन्होंने कहा कि काग्रेस में शाही परिवार की चाटुकारिता में नेता किस हद तक गुजर जाते हैं, इसका प्रमाण कुछ समय पहले काग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद के वक्तव्य से मिलता है। खुर्शीद ने काग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाधी को 'देश की मा' तक कह दिया था। आध्र प्रदेश में कांग्रेस के एक पूर्व मंत्री ने उनका मंदिर बनवा दिया था।

पीएम केयर फंड व सीएम राहत कोष का दें हिसाब

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ कर्नाटक में दर्ज हुए मुकदमे के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ऋषिकेश कांग्रेस कार्यालय में धरना दिया। उन्होंने प्रधानमंत्री केयर फंड व मुख्यमंत्री राहत कोष का हिसाब सार्वजनिक करने की मांग भी की।

कांग्रेस महानगर अध्यक्ष महंत विनय सारस्वत ने धरने को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के खिलाफ राजनैतिक द्वेष की भावना से केंद्र सरकार के इशारे पर कर्नाटक में झूठा मुकदमा दर्ज किया गया है, जो लोकतंत्र के लिए घातक है। 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री केयर फंड पर बोलना कब से अपराध हो गया है। कार्यकारी अध्यक्ष शिव मोहन मिश्रा ने कहा कि देश मे आने वाली आपदाओं के लिये प्रधानमंत्री राहत कोष के रहते नया प्रधानमंत्री केयर फंड बनाना शंका को जन्म देता है। इसका हिसाब भी नही दिया जा रहा है। 

प्रदेश सचिव मदनमोहन शर्मा ने कहा कि पीएम मोदी की चाटुकारी के लिये मोदी चालीसा बनाई जा रही है। एआइसीसी सदस्य जयेन्द्र रमोला ने कहा कि वर्तमान में बड़ी संख्या में प्रवासी उत्तराखंड को लौट रहे हैं, मगर सरकार की ओर से उनके लिए ठोस इंतजाम नहीं किये जा रहे हैं।

इस अवसर पर वेद प्रकाश शर्मा, अरविन्द जैन, सतीश शर्मा, महिला अध्यक्ष मधु जोशी, पार्षद शकुंतला शर्मा, सरोजनी थपलियाल, पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्यारे लाल जुगरान, राजेन्द्र गैरोला, पूर्व सभासद सोनू पाण्डेय, पुरंजय राजभर, प्रवीण गुप्ता आदि उपस्थित थे। 

प्रतिशोध की राजनीति कर रही केंद्र सरकार

जिला कांग्रेस परवादून के जिलाध्यक्ष गौरव सिंह के दूधली स्थित आवास पर कांग्रेस कार्यकर्ता ने सांकेतिक धरना दिया। इस दौरान कांग्रेस नेता गौरव चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार जानबूझकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी व कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ प्रतिशोध की राजनीति के चलते मुकदमा दर्ज कर रही है। जबकि कांग्रेस प्रवासी लोगों की मदद कर रही है। 

यह भी पढ़ें: भाजपा और कांग्रेस के कार्यक्रमों में नजर आई भीड़, उड़ाई गई शारीरिक दूरी की धज्जियां

इस मौके पर कांग्रेस नेता उम्मेद बोरा, त्रिलोक बोरा, रणजीत सिंह बॉबी, रफल सिंह, सुनील दत्त, माधव सिंह, धन सिंह बोरा, बिरेंद्र थापा, सुंदीप थापा, बब्बू बिष्ट, जगमोहन रावत, जसवंत सिंह आदि भी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड सरकार के मंत्री और विधायक ने लॉन्‍च की मोदी आरती, कांग्रेस और यूकेडी ने जताई आपत्ति

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस