Move to Jagran APP

एंटी नार्कोटिक टास्क फोर्स कर रही थी चेकिंग, रुकने का किया इशारा तो भागने लगा शख्स; तलाशी में मिली चौकाने वाली चीज

Dehradun Crime उत्तराखंड के देहरादून जिले में सोमवार को एंटी नार्किटिक टास्क फोर्स व शहर कोतवाली मिलकर चेकिंग अभियान चला रही थी। तभी एक शख्स पर शक होने पर उसे रुकने का इशारा किया तो वह भागने लगा। अधिकारियों ने उसे दौड़ाकर पकड़ा और उसकी तलाशी ली उनके भी होश उड़ गए। तलाशी में उसके पास नशीला पदार्थ बरामद हुआ है।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Tue, 09 Jul 2024 08:55 AM (IST)
स्मैक तस्करी के मामले में गिरफ्तार आरोपित l साभार- पुलिस

जागरण संवाददाता, देहरादून। शिक्षण संस्थानों के आसपास स्मैक तस्करी करने वाले व्यक्ति को पटेलनगर कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित मूलरूप से बिजनौर का रहने वाला है और पूर्व में राजमिस्त्री का काम करता था। कम समय में ज्यादा रुपये कमाने के लालच में वह गलत रास्ते पर चल पड़ा।

वह आजाद कालोनी के राशिद के साथ मिलकर स्मैक तस्करी करता था। अब पुलिस राशिद को तलाश रही है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि एंटी नार्कोटिक टास्क फोर्स (एएनटीएफ) व शहर कोतवाली पुलिस ने सोमवार रात लक्ष्मण चौक क्षेत्र में चेकिंग कर रही थी। मालवीय रोड पर एक व्यक्ति को रुकने का इशारा किया तो वह भागने का प्रयास करने लगा। पुलिस ने उसे दबोचकर तलाशी ली तो उसके पास से 101.94 ग्राम स्मैक, इलेक्ट्रानिक तराजू तथा नकदी बरामद हुई।

कोतवाली में दर्ज किया गया मुकदमा

आरोपित की पहचान मकसूद निवासी इनामपुरा, थाना मंडावर, जिला बिजनौर, (उत्तर प्रदेश) वर्तमान निवासी गांधीग्राम के रूप में हुई है। मकसूद के खिलाफ शहर कोतवाली में एनडीपीएस अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

पूछताछ में मकसूद ने पुलिस को बताया कि वह राजमिस्त्री का कार्य करता था। इसी दौरान उसकी पहचान राशिद से हुई, जो स्मैक तस्करी करता था। कम समय में ज्यादा रुपये कमाने के लालच में उसने राशिद के साथ मिलकर स्मैक तस्करी शुरू कर दी। वह शिक्षण संस्थानों के आसपास छात्रों को स्मैक बेचकर मुनाफा कमाता था। मंगलवार को वह राशिद से स्मैक खरीदकर लाया था।

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड में भारी बारिश से हाल-बेहाल, पानी के कारण 325 सड़कें बंद; नेशनल हाईवे से भी आवागमन हुआ ठप