ऋषिकेश, जेएनएन। ऑल वेदर रोड परियोजना के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 यानी ऋषिकेश-बदरीनाथ राजमार्ग ग्यारह फरवरी से तीन माह के लिए रात्रि आठ बजे से प्रात: छह बजे तक यातायात के लिए पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगा। इस संबंध में थाना मुनिकीरेती, देवप्रयाग व कीर्ति नगर के थानाध्यक्ष व एनएच के सहायक अभियंता तथा कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर के मध्य बैठक में कार्ययोजना तैयार की गई। 

रविवार को मुनिकीरेती थाने में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि कार्यदायी संस्था मार्ग बंद होने की जानकारी देने के लिए मुख्य स्थानों पर चेतावनी बोर्ड लगाएगी। डायवर्जन स्थल पर पुलिस के सहयोग के लिए कार्यदायी संस्था की ओर से निजी सुरक्षा एजेंसियों के चार सुरक्षा कर्मी प्रतिदिन उपलब्ध कराएं जाएंगे। 

ब्लास्टिंग कार्य की जानकारी की अपडेट के संबंध में थाना देवप्रयाग पर एक कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। जिसमें पुलिस के अलावा कार्यदायी संस्थाओं के कर्मचारी भी नियुक्त होंगे। प्रति घंटा हर साइड की ब्लास्टिंग डिटेल कंट्रोल रूम पर नोट होगी। ब्लास्टिंग साइट पर भी दोनों ओर 200 मीटर की दूरी पर कार्यदायी संस्थाओं के बैरियर पर सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। मलबा हटाने के लिए अधिक से अधिक जनशक्ति और मशीनें प्रयुक्त होंगी।

सरकारी एवं निजी चिकित्सालय को किसी भी मरीज के रेफर किए जाने के संबंध में सूचना मुख्य चिकित्सा अधिकारी टिहरी गढ़वाल के कार्यालय को भेजेंगे। कार्यालय की ओर से सूचना देवप्रयाग में स्थित कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराई जाएगी। कंट्रोल रूम से यह तय किया जाएगा की मार्ग एंबुलेंस के आने लायक है या नहीं या उसे वैकल्पिक मार्ग पर डायवर्ट किया जाए। 

देवप्रयाग स्थित कंट्रोल रूम पर डायवर्जन पर तैनात सभी पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारियों के साथ ही सभी साइट पर तैनात इंजीनियरों के मोबाइल नंबर रखे जाएंगे। बैठक में यह भी तय किया गया कि सुगम संचार के लिए सभी कंपनियां डायवर्जन स्थलों और ब्लास्टिंग स्थलों पर सुविधाजनक मोबाइल उपलब्ध कराएंगे। बैठक में प्रभारी निरीक्षक मुनिकीरेती आरके सकलानी, थानाध्यक्ष देवप्रयाग विनोद राणा, प्रभारी निरीक्षक कीर्ति नगर जवाहर लाल के अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग खंड श्रीनगर के सहायक अभियंता मृत्युंजय शर्मा, प्रोजेक्ट मैनेजर मनीष, प्रोजेक्ट ऑफिसर लोकपाल त्यागी व इंजीनियर एके शर्मा उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें: इस फ्लाईओवर में हो चुकी हैं आठ की मौत, अब आई सुरक्षा की याद

यह भी पढ़ें: देहरादून में वैली ब्रिज के पुश्ते पर दरार, सुरक्षा पर उठे कई सवाल

Edited By: Sunil Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट