देहरादून, [जेएनएन]: नगर निगम चुनाव में भले ही आम आदमी पार्टी की रजनी रावत तीसरे नंबर पर रही हों, लेकिन चुनावी खर्च के मामले में वह अव्वल रही। जीत दर्ज करने वाले भाजपा के सुनील उनियाल गामा दूसरे और कांग्रेस के दिनेश अग्रवाल खर्च के मामले में चौथे स्थान पर रहे। उक्रांद प्रत्याशी खर्च में तीसरे नंबर पर रहे।

स्थानीय निकाय चुनाव में नामांकन के साथ ही प्रत्याशियों के खर्च का मीटर भी घूमने लगा था। प्रत्याशियों को प्रचार अभियान में किए गए खर्च का ब्योरा निर्वाचन कार्यालय में देना पड़ रहा था। 

निगम चुनाव में महापौर पद पर चुनाव लड़े प्रत्याशियों का पांचवीं बार लेखा टीमों ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया गया कि रजनी रावत ने चुनाव में हाथ खोल कर खर्च किया। उन्होंने 810628 रुपये खर्च किए। जबकि, महापौर पद पर जीत दर्ज करने वाले भाजपा के सुनील उनियाल गामा ने 596390 रुपये और उत्तराखंड क्रांति दल के प्रत्याशी विजय कुमार बौड़ाई ने 465935 रुपये खर्च किए। 

चुनाव में दूसरे नंबर पर रहे कांग्रेस प्रत्याशी दिनेश अग्रवाल ने पूरे चुनाव में अपना हाथ टाइट रखा। उन्होंने 433126 रुपये चुनाव में खर्च किए। जबकि, निर्दल जगमोहन मेहंदीरत्ता ने 286674 खर्च किए। वहीं दो प्रत्याशियों सपा की अंजना वालिया और लोक जनशक्ति पार्टी के रामसुख ने अपने पांचवें चुनावी खर्च का ब्योरा अबतक जमा नहीं किया है। लेखा टीम के मुताबिक अभी खर्चों का निरीक्षण किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: निकाय चुनाव: लक्ष्मी पंत बने पोखरी नगर पंचायत के अध्यक्ष

यह भी पढ़ें: निकाय चुनाव में खुद भाजपा नहीं भांप पाई अंडर करंट

यह भी पढ़ें: इस बार निकाय चुनाव में सीट और साख गंवा बैठे ये दिग्गज

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस