बागेश्वर, [जेएनएन]: गणित के शिक्षक हरिमोहन ऐठानी ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गणित की थ्योरी सिद्ध की है। उन्हें अमेरिकन गणितज्ञ एवं बैंकर एंड्रयू बील ने नंबर थ्योरी पर आधारित सवाल के लिए चैलेंज किया था। इस पर ऐठानी ने 15 दिनों के भीतर सवाल का जबाव तैयार किया, जिसे मुंबई की संस्था अमीराज ने अपनी पुस्तक कलाम्स बुक ऑफ द रिकार्ड में जगह दी है।

बागेश्वर जिले के राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कपकोट में गणित के शिक्षक 44 वर्षीय हरिमोहन ऐठानी लंबे समय से अनसुलझे सवालों को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही मैजिक स्क्वायर में भी उन्हें महारथ हासिल है। उन्हें इंटरनेट के जरिए अमेरिकन गणितज्ञ एवं बैंकर एंड्रयू बील ने नंबर थ्योरी को हल करने का चैलेंज दिया। यह थ्योरी 381 साल पुरानी बताई जाती है। शिक्षक हरिमोहन ने चैलेंज स्वीकारते हुए 16 जून 2018 से सवाल का जबाव निकालना शुरू किया और 15 दिनों की कड़ी मेहनत के बाद इसमें सफलता प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने सवाल का जवाब मुंबई की संस्था अमीराज को भेजा, जिसे अमीराज ने नौ पेज में प्रकाशित किया है। 

पहले भी कई रिकार्ड किए अपने नाम 

लिम्का बुक ऑफ नेशनल रिकॉर्ड- 2015 लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2016, वर्ल्ड रिकॉर्ड इंडिया बुक- 2015, यूनिवर्सल रिकॉर्ड फोरम वर्ल्ड रिकॉर्ड-2016, ऑनलाइन वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2015, एवरेस्ट बुक ऑफ रिकॉर्ड- 2017, वंडर बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2015, नेशनल ज्यूरी वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2016, मेगास्टार वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2017 और आसाम बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड- 2017। 

डॉयट प्राचार्य बीडी जोशी ने बताया कि शिक्षक हरिमोहन ऐठानी का प्रयास सराहनीय है। उनकी मेहनत एक दिन जरूर रंग लाएगी। हालांकि, गणित के क्षेत्र में इतना कुछ करने के बावजूद वह वाजिब सम्मान से वंचित हैं। 

यह भी पढेें: इस युवा ने बनाया विश्व का सबसे छोटा चरखा, लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज

यह भी पढ़ें: एक मिनट के भीतर 653 छात्र-छात्राओं ने एकसाथ किए पुशअप्स

यह भी पढ़ें: इस सैंडविच की लंबार्इ देख रह जाएंगे हैरान, लिमका बुक में दर्ज हुआ नाम

Posted By: Raksha Panthari