संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : विकास खंड सल्ट के मरचूला- भिकियासैंण मार्ग के निर्माण में हो रही देरी पर ग्रामीणों का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। ग्रामीणों ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पर एकत्र होकर जोरदार प्रदर्शन किया और अधिकारियों का घेराव भी किया।

विकास खंड सल्ट के दर्जनों गांवों को सड़क सुविधा का लाभ देने के उद्देश्य से मरचूला-भिकियासैंण मोटर मार्ग को पूर्व में स्वीकृति दी गई थी। लेकिन सालों बीत जाने के बाद भी इस मोटर मार्ग का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है। जिससे गुस्साए ग्रामीण सड़क बनाओ संघर्ष समिति के अध्यक्ष राकेश नाथ के नेतृत्व में जिला मुख्यालय पर आ धमके। ग्रामीणों ने सड़क निर्माण की मांग को लेकर प्रदर्शन किया और बाद लोक निर्माण विभाग के कार्यालय का घेराव कर दिया। सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि वह लंबे समय से सड़क निर्माण की मांग कर रहे हैं। लेकिन इसके बाद भी जनप्रतिनिधि और अधिकारी उनकी मांग पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं। ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर तीय जून तक इस मार्ग के शेष निर्माण कार्य के टेंडर नहीं कराए गए तो वह आमरण अनशन शुरू कर देंगे। ग्रामीणों ने इस आंदोलन को उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भी अपना समर्थन दिया। इस मौके पर उपपा के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी, अर्जुन भाकुनी, कमल गिरि, तारा देवी, माया देवी, उदुली देवी, देवुली देवी, चंद्रा देवी समेत अनेक ग्रामीण मौजूद रहे।

Posted By: Jagran