संवाद सहयोगी, चौखुटिया : चौखुटिया व स्याल्दे विकास खंडों की बहुप्रतीक्षित 14 करोड़ की रामगंगा-असुरगढ़ी ग्राम समूह पंपिंग पेयजल व 7 करोड़ लागत वाली ईड़ा-बारखाम पेयजल योजनाओं को राज्य सेक्टर, ग्रामीण कार्यक्रम के अंतर्गत प्रशासनिक व वित्तीय मंजूरी मिल गई है। अपर सचिव ने उत्तराखंड शासन की ओर से योजनाओं के स्वीकृति का शासनादेश निर्गत कर दिया है। योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु प्रथम चरण में क्रमश: 49.72 लाख व 25.33 लाख की धनराशि जारी कर दी गई है। योजनाओं के तैयार होने के बाद दर्जनों गांवों के वाशिंदों को लाभ मिल सकेगा।

विदित हो कि असुरगढ़ी पंपिंग पेयजल योजना की मांग ग्रामीणों द्वारा वर्षो से उठाई जा रही है। जिसे अब स्वीकृति मिल गई है। इससे चौखुटिया एवं स्याल्दे विकास खंडों के करीब दो दर्जन गांवों के वाशिंदों को पीने का पानी मिल सकेगा। साथ ही ईड़ा-बारखाम पेयजल योजना से जालली क्षेत्र के दर्जनों गांवों को पेयजल का लाभ मिलेगा। क्षेत्र के लोगों ने योजनाओं को मंजूरी दिलाने में क्षेत्रीय विधायक महेश नेगी के प्रयासों की सराहना की है। वहीं विधायक ने सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का धन्यवाद ज्ञापित किया है।

-------------------------

जौरासी के वाशिंदों में खुशी की लहर

असुरगढ़ी पेयजल योजना को स्वीकृति मिलने पर जौरासी क्षेत्र के ग्रामीणों में खुशी की लहर है। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि इस योजना का लाभ दो विकास खंडों के ग्रामीणों को मिलेगा, जो वर्षो से पेयजल संकट से जूझ रहे हैं। इधर नव चेतना सामाजिक विकास समिति के मीडिया प्रभारी हरीश कांडपाल ने बताया कि समिति ने योजना को लेकर लंबी लड़ाई लड़ी एवं गत सितंबर में शिष्ट मंडल मुख्यमंत्री से भी मिला था। उन्होंने सभी को बधाई दी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस