Move to Jagran APP

Unnao Bus Accident: क‍िसी का हाथ कटकर हुआ अलग तो क‍िसी का फट गया पैर, दर्दनाक मंजर देख कांप गए लोग

लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर उन्‍नाव में बुधवार तड़के पांच बजे हादसा हुआ। ओवटेकिंग लेन में चल रहे दूध टैंकर को बाई ओर से ओवरटेक करने की कोशिश में स्लीपर बस पीछे से घुस गई। हादसे में बस व टैंकर चालक समेत 18 की मौत हो गई 19 घायल हो गए। हादसे में किसी का हाथ कटकर अलग हो गया तो किसी का पैर बीच से फट गया।

By Jagran News Edited By: Vinay Saxena Wed, 10 Jul 2024 01:42 PM (IST)
लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुए हादसे के बाद क्षत‍िग्रस्‍त बस। - पीटीआई

जागरण संवाददाता, उन्नाव। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर हुए हादसे में किसी का हाथ कटकर अलग हो गया तो किसी का पैर बीच से फट गया। चीख पुकार के बीच 20 मिनट बाद पहुंचे यूपीडा कर्मियों ने पुलिस को जानकारी देकर बचाव कार्य शुरू किया। सीटों के नीचे दबे यात्रियों को बाहर निकालकर सीएचसी ले जाया गया। डॉक्टर ने पांच साल के मासूम, तीन महिलाओं और 14 पुरुषों समेत 18 को मृत घोषित कर दिया। हादसे में घायल हुए 19 लोगों में 15 को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है।

हादसा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बेहटा मुजावर क्षेत्र के अवस्थीखेड़ा के पास बुधवार तड़के पांच बजे हुआ। ओवटेकिंग लेन में चल रहे दूध टैंकर को बाई ओर से ओवरटेक करने की कोशिश में स्लीपर बस पीछे से घुस गई। हादसे में बस व टैंकर चालक समेत 18 की मौत हो गई, 19 घायल हो गए।

हादसे के बाद दर्दनाक था मंजर   

दाईं ओर से बस के टकराने से चालक की साइड का आधे से अधिक हिस्सा फट गया। हादसा के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई। दर्दनाक मंजर देख लोगों की रुह कांप गई। यूपीडा टीम के अलावा बांगरमऊ व बेहटामुजावर पुलिस ने सीएचसी से एंबुलेंस बुलाकर बस में फंसे लोगों को सीएचसी बांगरमऊ पहुंचाया। 15 घायलों को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। यहां से एक को कानपुर एलएलआर अस्पताल और पांच को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया।

ड्राइवर ने रास्‍ते में ढाबे पर पी थी शराब  

बस का चालक बिहार के शिवहर से करीब 45 यात्रियों को लेकर दिल्ली के लिए चला था। उन्नाव के बेहटामुजावर तक पहुंचने के दौरान वह रास्ते में तीन जगह रुका। आखिरी बार वह रात 12 बजे गोरखपुर व बस्ती के बीच एक ढाबा पर रुका। एक यात्री के अनुसार, उसने सहचालक के साथ बैठकर शराब पी। यहां से निकलने के बाद उसने बस की रफ्तार बढ़ाई। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर लखनऊ टोल पार करने के बाद रफ्तार 100 किमी प्रतिघंटा से अधिक हो गई।

बेहटामुजावर के अवस्थीखेड़ा के पास तड़के पांच बजे ओवरटेकिंग लेन में चल रहे दूध टैंकर को उसने बाईं ओर से ओवरटेक करने का प्रयास किया। नशे में होने व तेज रफ्तार के चलते बस टैंकर में पीछे से टकरा गई।

यह भी पढ़ें: लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे हादसे पर बड़ा खुलासा, ड्राइवर ने ढाबे पर पी थी शराब; 100 KM थी बस की रफ्तार

यह भी पढ़ें: लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर भीषण हादसे में 18 लोगों की मौत, पीएम मोदी-राष्ट्रपति मुर्मु ने जताया दुख; मुआवजे का एलान