Move to Jagran APP

स्‍कूल में DM के औचक न‍िर‍ीक्षण से मची खलबली, टीचर की मोबाइल ह‍िस्‍ट्री देखते ही भड़के ज‍िलाधि‍कारी; कर द‍िया सस्‍पेंड

यूपी के संभल ज‍िले में डीएम ने एक कंपोजिट विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने एक टीचर के मोबाइल की भी जांच कर ली। मोबाइल में टीचर के द्वारा स्‍कूल के टाइम पर मोबाइल चलाए जाने की पुष्टि हुई ज‍िससे डीएम भड़क गए। उन्‍होंने बीएसए को कार्रवाई के निर्देश द‍िए ज‍िसके बाद सहायक अध्यापक को सस्‍पेंड कर द‍िया गया।

By Shobhit Kumar Edited By: Vinay Saxena Thu, 11 Jul 2024 02:11 PM (IST)
निरीक्षण के दौरान डीएम ने एक शिक्षक के मोबाइल की जांच की।- सांकेत‍िक तस्‍वीर

जागरण संवाददाता, संभल। तहसील क्षेत्र के गांव शरीफपुर स्थित कंपोजिट विद्यालय का जिलाधिकारी ने औचक निरीक्षण किया, जहां निरीक्षण के दौरान उन्होंने एक शिक्षक के मोबाइल की जांच की। मोबाइल में टीचर के द्वारा स्‍कूल के टाइम पर मोबाइल चलाए जाने की पुष्टि हुई। इस पर उन्होंने बीएसए को कार्रवाई के निर्देश द‍िए। बीएसए ने विद्यालय में तैनात सहायक अध्यापक को निलंबित कर दिया।

जिलाधिकारी डॉ. राजेंद्र पैंसिया ने बुधवार को तहसील क्षेत्र के गांव शरीफपुर में स्थित कंपोजिट विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। जिलाधिकारी को अचानक विद्यालय में देखकर सभी में खलबली मच गई। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने विद्यालय में छात्र छात्राओं और अध्यापकों का उपस्थिति रजिस्टर देखा।

पढ़ाई की गुणवत्ता को लेकर अध्यापकों को दी चेतावनी

इसके साथ ही स्कूल के कायाकल्प और ग्राम पंचायत में विकास कार्यों को लेकर विकासखंड अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि एक कार्य योजना बनाई जाए, जिससे स्कूल और ग्राम पंचायत में विकास कार्य कराए जा सकें। बाद में बच्चों की गृह लेखा पुस्तिका की भी जांच की, जिसमें त्रुटियां पाई गई। इस पर उन्होंने पढ़ाई की गुणवत्ता को लेकर अध्यापकों को चेतावनी दी।

निरीक्षण के दौरान उन्होंने विद्यालय में तैनात सहायक अध्यापक प्रेम ग्रेवाल का मोबाइल देखा तो उसकी विद्यालय समय में चलाने की पुष्टि हुई, जिसकी वजह से उन्होंने कार्रवाई के निर्देश बीएसए को दिए। इस पर जिलाधिकारी ने स्कूल समय में किसी भी दशा में मोबाइल का प्रयोग ना करने की चेतावनी दी। इसके साथ ही उन्होंने सभी अध्यापकों को बच्चों की गृह लेखा पुस्तिका को लाल रंग के पेन से चेक करने के निर्देश दिए।

बीएसए ने क‍िया सस्‍पेंड 

वहीं, जिलाधिकारी द्वारा कक्षा में माेबाइल चलाने के आरोप में सहायक अध्यक्ष प्रेम ग्रेवाल को बीएसए अलका शर्मा ने निलंबित कर क्षेत्र के ही गांव दरियापुर राजदेव से संबद्ध कर दिया। आरोप पत्र में उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी द्वारा जब उनके मोबाइल की जांच की गई तो उनके द्वारा मोबाइल में गेम खेलने, फेसबुक चलाने, बातचीत करने की पुष्टि हुई, जिसमें कुछ देर विभागीय ऐप चलने के बारे में भी जानकारी मिली थी। बीएसए ने मामले की जांच का जिम्मा खंड शिक्षाधिकारी बहजोई विनोद कुमार को सौंपा है। 

यह भी पढ़ें: यूपी में सरकारी स्‍कूल की टीचर ने नदी में कूदकर दी जान, सुसाइड का ये चौंकाने वाला कारण आया सामने