Move to Jagran APP

'अगर प्रियंका वाराणसी से लड़ गई होती तो...', राहुल गांधी ने रायबरेली धन्यवाद सभा में कही बड़ी बात

Rahul Gandhi In Rae Bareli पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष और रायबरेली से सांसद राहुल गांधी कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव/संगठन प्रभारी केसी वेणुगोपाल रायबरेली पहुंचे। उनके साथ उनकी बहन और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी मौजूद रहीं। राहुल ने कहा कि पहली बार देश के प्रधानमंत्री हिंसा के बलबूते चुनाव लड़ रहे थे। उप्र की जनता ने हिंसा और अहंकार के खिलाफ दबाकर वोट किया। उन्होंने जमकर विपक्ष पर निशाना साधा और कहा...

By Jagran News Edited By: Riya Pandey Published: Tue, 11 Jun 2024 06:21 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 06:21 PM (IST)
प्रियंका अगर वाराणसी से पीएम मोदी के खिलाफ लड़ जाती तो...- राहुल गांधी

जागरण संवाददाता, रायबरेली। राहुल ने कहा कि पहली बार देश के प्रधानमंत्री हिंसा के बलबूते चुनाव लड़ रहे थे। उप्र की जनता ने हिंसा और अहंकार के खिलाफ दबाकर वोट किया। सबसे पहले कांग्रेस पार्टी के नेता एमएल और एमपी कांग्रेस के कार्यकर्ता अहंकार के शिकार नहीं होंगे। हमारा पारिवारिक रिश्ता है ।

राजनीति में सबसे पुराना हमारा और रायबरेली का रिश्ता है। जब किसान आंदोलन में नेहरू जी आए। पूरे देश की राजनीति रायबरेली और अमेठी ने बदल दी है। पहले पीएम कहते थे कि मैं काम नहीं करता भगवान काम करवाते हैं। पता नहीं उनके भगवान कैसे काम उनसे करवाते हैं। अडानी व अंबानी... हिंदुस्तान की जनता नया विजन चाहती है।

उत्तर प्रदेश ने मैसेज दिया है कि इंडिया गठबंधन चाहिए। सबसे पहले हमें यही काम करना है कि नफरत की दुकान में मोहब्बत की दुकान खोलनी है। सबसे बड़ी बात है कि ये अयोध्या हार गए। इन्हें जवाब ने भी जवाब दिया है।

'वाराणसी से अगर प्रियंका लड़ी होती तो...'

राहुल ने कहा कि अगर प्रियंका वाराणसी से लड़ गई होती तो यह वाराणसी से पीएम के खिलाफ दो से तीन लाख वोटों से जीत जाती। हिंस्दुस्तान के प्रधानमंत्री ने सिर्फ नफरत की दुकान फैलाई। आने वाले समय में बेरोजगारी, महंगाई का मुद्दा उठाया जाएगा। अब हमारे पास संसद में सेना बैठी हुई है। हम विपक्ष में रहकर अग्निवीर को उठाएंगे। राहुल ने कहा मैं वायदा करता हूं कि जो रायबरेली में होगा वही अमेठी में भी होगा।

यह भी पढ़ें- Rahul Gandhi In Raebareli: रायबरेली पहुंचे राहुल-प्रियंका, अमेठी के सांसद किशोरी लाल ने किया स्वागत


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.