Move to Jagran APP

UP News: बिजली की मांग का बना नया रिकॉर्ड, 30618 मेगावाट पहुंची पीक डिमांड, सप्लाई में नंबर वन पर आया यूपी

भीषण गर्मी में बिजली की बढ़ती मांग नित नया रिकॉर्ड कायम कर रही है। प्रदेश में बिजली की पीक डिमांड 30618 मेगावाट और खपत 655.657 मिलियन यूनिट तक पहुंच गई। ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव नरेंद्र भूषण ने शुक्रवार को प्रबंध निदेशकों और अधिशासी अभियंता के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में बिजली की मांग और आपूर्ति के ताजा आंकड़ों साझा किए।

By Anand Mishra Edited By: Shivam Yadav Sat, 15 Jun 2024 01:33 AM (IST)
ओवर लोडिंग की समस्या को तत्काल समाप्त करने के निर्देश जारी

राज्य ब्यूरो, लखनऊ। भीषण गर्मी में बिजली की बढ़ती मांग नित नया रिकॉर्ड कायम कर रही है। प्रदेश में बिजली की पीक डिमांड 30,618 मेगावाट और खपत 655.657 मिलियन यूनिट तक पहुंच गई। 

ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव नरेंद्र भूषण ने शुक्रवार को प्रबंध निदेशकों और अधिशासी अभियंता के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग में बिजली की मांग और आपूर्ति के ताजा आंकड़ों साझा किए। 

उन्होंने सर्वाधिक विद्युत आपूर्ति करने वाले राज्यों में यूपी के पहले नंबर पर पहुंचने की बधाई दी और भीषण गर्मी में काम कर रहे अधिकारियों व कर्मचारियों की सराहना भी की।

प्रमुख सचिव ने कहा कि इस समय सभी क्षेत्रों को चौबीस घंटे विद्युत आपूर्ति दी जा रही है। अंतिम उपभोक्ता के छोर तक बिजली पहुंचे यह सुनिश्चित किया जाए। ओवरलोडिंग की समस्या को तत्काल समाप्त करें और भविष्य में इस तरह की समस्या न हो इसकी रणनीति अभी से बना ली जाए। 

उन्होंने साफ कहा कि गर्मी एवं त्योहारों को देखते हुए शटडाउन से बचा जाए और अपरिहार्य कारणों से ही शटडाउन लिया जाए। सभी कार्मिक उपभोक्ताओं को विद्युत व्यवधान और आपूर्ति के बारे में सही जानकारी दी जाए। 

अधिकारी जनता से मिलने का समय सुनिश्चित करें और उनकी समस्याओं का निराकरण कराएं। फोन उठाएं और काल बैक भी करें। भीषण गर्मी को देखते हुए अधिकारी रात में भी उपकेंद्रों का भ्रमण करें। 

उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को सही रीडिंग का बिल समय से उपलब्ध कराएं। लाइन हानियां कम करने के लिए लगातार प्रयास करें और उपभोक्ता सुविधा के लिए टोल फ्री नंबर 1912 पर आने वाली शिकायतों पर तत्काल कार्रवाई करें।

यह भी पढ़ें: UP Bijli: क्या वाकई यूपी में 24 घंटे मिलेगी बिजली? ऊर्जा मंत्री ने बताई सच्चाई, जल्द लागू होगी ये नई व्यवस्था