Move to Jagran APP

Pilibhit News: रिवॉल्वर और बंदूक के लाइसेंस बनवाने के लिए सपा नेता ने किया ऐसा काम, अब सलाखाें के पीछे पहुंचा

Pilibhit Crime News Update डबल बैरल बंदूक और रिवॉल्वर के लिए दिया फर्जी पता। वरिष्ठ उप निरीक्षक की तरफ से लिखाई गई प्राथमिकी में कहा गया कि सतनाम सिंह का पूर्व आपराधिक इतिहास रहा है। उनके विरुद्ध सदर कोतवाली थाना सुनगढ़ी कोतवाली बीसलपुर थाना बरखेड़ा थाना गजरौला धोखाधड़ी एवं अन्य आपराधिक मामलों के 10 अभियोग पहले से ही पंजीकृत हैं।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Published: Sun, 12 May 2024 12:31 PM (IST)Updated: Sun, 12 May 2024 12:48 PM (IST)
Pilibhit News: फर्जी पते पर शस्त्र लाइसेंस बनवाने में सपा नेता गिरफ्तार

जागरण संवाददाता, पीलीभीत। समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य सतनाम सिंह सत्ता को फर्जी पते पर दो शस्त्र लाइसेंस जारी करा लेने और फिर उन्हें अपने नए पते के आधार पर ट्रांसफर कराने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया है।

शहर में एकता नगर कालोनी निवासी सतनाम सिंह सत्ता का मूल निवास गजरौला थाना क्षेत्र के गांव पौर खास है। आरोप है कि उन्होंने वर्ष 2007 में तत्कालीन जिला शाहजहांपुर के थाना सेहरामऊ उत्तरी के गांव प्रसादपुर में अपना निवास दर्शाकर डबल बैरल बंदूक और रिवाल्वर के लाइसेंस शाहजहांपुर जिले से जारी करा लिए। इसके बाद दोनों लाइसेंसों को अपने नए पते शहर की एकता नगर कालोनी के पते पर धोखाधड़ी करके वर्ष 2019 में स्थानांतरित कराकर अभिलेखों में दर्ज करा लिए।

शिकायत मिलने पर पुलिस ने की जांच

इस मामले की शिकायत मिलने पर पुलिस ने जांच की। जांच में पाया गया कि वह प्रसादपुर गांव में कभी नहीं रहे। वहां का पता फर्जी दर्शाया गया। इस पर गजरौला थाने में वरिष्ठ उप निरीक्षक मो. आरिफ ने सतनाम सिंह के विरुद्ध धोखाधड़ी करने की प्राथमिकी लिखाई।

ये भी पढ़ेंः Agra: लव मैरिज के बाद पत्नी वेब सीरीज में एक्ट्रेस बनीं, अभिनेत्री बनना पति को नापसंद, बोला-'एक्टिंग छोड़ेगी तभी रखूंगा अपने साथ'

आरोपित ने धोखाधड़ी करके फर्जी पता दर्शाकर शाहजहांपुर जिले से दो शस्त्र लाइसेंस जारी कराए थे। बाद में दोनों शस्त्र लाइसेंसों को अपने नए पते पर स्थानांतरित कराकर अभिलेखों में दर्ज कराए। आरोपित पर विभिन्न थानों में पहले से ही अनेक आपराधिक अभियोग पंजीकृत है। आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। दीपक चतुर्वेदी सीओ सिटी

ये भी पढ़ेंः UP School Holidays: इंतजार हुआ खत्म, आ गई स्कूलों की छुट्टी की डेट, 20 नहीं इस बार इस 18 मई से बंद होंगे विद्यालय

सतनाम सिंह सत्ता पहले समाजवादी पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी के सदस्य रहे हैं। संगठन में निष्क्रियता के चलते बाद में उन्हें हटा दिया गया था। फर्जी पते पर शस्त्र लाइसेंस जारी करने के मामले में प्राथमिकी लिखे जाने की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। जगदेव सिह जग्गा, जिलाध्यक्ष, सपा 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.