Move to Jagran APP

Varun Gandhi: गांधी परिवार वो नहीं जो मीठी-मीठी बातें बताकर वोट चोरी करे, पीलीभीत में बोले वरुण गांधी

Varun Gandhi यूपी के पीलीभीत में सांसद वरुण गांधी ने जनता को संबोधित किया। अपने संबोधन में वरुण गांधी ने गांधी परिवार का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि गांधी परिवार उस किस्म का नहीं है जो मीठी-मीठी बातें बताकर आपका वोट चोरी कर ले। इनता ही नहीं वरुण गांधी ने कहा कि चाहे किसी को कड़वा लगे लेकिन मैं हमेशा सच ही बोलूंगा।

By Jagran NewsEdited By: Swati SinghPublished: Tue, 29 Aug 2023 11:25 AM (IST)Updated: Tue, 29 Aug 2023 11:25 AM (IST)
गांधी परिवार वो नहीं जो मीठी-मीठी बातें बताकर वोट चोरी करे, पीलीभीत में बोले वरुण गांधी

पीलीभीत, जागरण संवाददाता। सोमवार को एक दिवसीय दौरे पर आए सांसद ने कई गांवों में जनसंवाद कार्यक्रमों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने नेताओं पर तंज भी कंसा। सांसद वरुण गांधी ने कहा कि वह उन नेताओं में से नहीं हैं जो जनता से झूठ बोलकर वोट ले लें। अपने संबोधन में वरुण गांधी ने 'गांधी परिवार' का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि गांधी परिवार उस किस्म का नहीं है, जो मीठी-मीठी बातें बताकर आपका वोट चोरी कर ले। वरुण गांधी के इस जिक्र के साथ ही एक बार फिर से कई कयास लगाए जाने शुरू हो गए हैं।

पीलीभीत की जनता को वरुण गांधी ने एक कहानी सुनाई। राजा और गायक की कहानी सुनाते हुए बिना नाम लिए तंज कसा। सांसद ने कहा कि राजा के पास एक गायक आया और बहुत सुंदर गीत सुनाया। जिस पर राजा ने उसे एक बीघा जमीन देने की घोषणा कर दी। इस पर गायक को लालच आ गया और उसने कई गाने सुनाए।

गायक जैसे-जैसे गीत सुनाता गया, राजा ने सोना, जमीन, महल देने की घोषणा कर दी। गायक काफी खुश हुआ और घर जाकर पत्नी को सारी बातें बताई, तो पत्नी भी खुश हो गईं। काफी दिन बाद भी जब इनाम नहीं मिला तो गायक राजा के पास गया और पूछा। इस पर राजा ने कहा काहे का उपहार, आपने हमारे कान खुश किए मैंने आपके कान खुश कर दिए। लेनदेन की बात कहा से आ गईं।

भले ही कड़वी बात बोलूं, बोलूंगा हमेशा सच

सांसद ने कहा कि वह भले कड़वी बात बोलें, लेकिन बोलेंगे हमेशा सच। उन्होंने कहा कि वह ऐसे व्यक्ति नहीं हैं जो केवल झूठा ड्रामा करके आपका वोट लेकर चले जाए।

बेरोजगारी को लेकर किए कई सवाल

सांसद वरुण गांधी ने ग्राम पीराताल, मोहम्मदगंज, सैजना, गोयल कॉलोनी, महुआ, जमुनिया, इग्घरा आदि ग्रामों में जनसंवाद कार्यक्रम को संबोधित किया। सांसद ने बेरोजगारी का मुद्दा उठाते सवाल किया कि कब तक हमारे बच्चे पलायन कर ईंट भट्ठों पर काम करेंगे। सरकार को इस पर सोचना चाहिए। बड़े-बड़े शहरों में रोजगार हैं, लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसा कुछ नहीं है। सरकार को उद्योगपतियों से निवेदन करना चाहिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में कारखाने लगाए ताकि यहां के लोगों को काम मिले, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है।

वरुण गांधी ने की सिखों की तारीफ

सांसद ने सिखों की तारीफ करते हुए कहा कि सिखों ने देश के लिए काफी बलिदान दिए हैं, अपना खून बहाया , लेकिन दुख होता जब उनको अपने अनाज की सुरक्षा के लिए कई जानें गंवानी पड़ीं। तब हमने आवाज उठाई। कहा कि आपने हमें संसद इसलिए भेजा था, ताकि आपकी लड़ाई लड़ सकूं।

भेड़ चाल जैसा काम न करें

सांसद ने कहा कि आप लोग किसी को भी वोट दें, लेकिन भेड़ चाल जैसा काम न करें। अपना दिमाग लगाएं। कोई आए और नारे बोल दे और आप उसे वोट दे दें, ऐसा न करें। सांसद ने कहा कि अगर वह गलती कर रहे हैं तो हां में हां न मिलाएं, मुझसे भी सवाल करें।

सांसद ने दोहराया कि पीलीभीत लोकसभा का उनसे रिश्ता एक पवित्र संगम की तरह है। हम जहां भी जाते हैं, तो लोग हमसे पूछते हैं कि पीलीभीत कैसा है। पीलीभीत के लोग कैसे हैं। यह पहचान दिलाने के लिए यहां जितने भी लोग बैठे हैं, सबका योगदान है। मुझे और मेरे परिवार को खड़ा करने के लिए आप सभी का काफी योगदान है। आपको कहीं भी किसी भी प्रकार की जरूरत हो तो बताएं।

मेरी मां ने 30 साल सेवा की

सांसद वरुण गांधी ने कहा कि उनकी मां ने 30 साल सेवा की, वह भी सेवा कर हैं, लेकिन परिवार की तरह। इससे पहले सांसद शहर के राजघाट पार्क, कृष्णालोक व मरौरी ब्लाक के पीराताल में फलदार पौधे लगाए। सांसद ने स्वस्थ पर्यावरण के लिए लोगों से ज्यादा से ज्यादा पौधे लगाने के लिए जोर दिया।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.