मुरादाबाद [प्रदीप चौरसिया]। Railway Free Travel Pass : सेवानिवृत्त रेल कर्मचारियों को फ्री यात्रा पास के लिए अब कार्यालय के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। आरक्षण टिकट लेने के लिए भी लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। र‍िटायर कर्मचारी घर पर बैठकर पास ले पाएंगे और आरक्षण टिकट प्राप्त कर सकते हैं। रेल प्रशासन ने अधिकारियों को पास सिस्टम को अपडेट करने के आदेश द‍िए हैं।

रेलवे से सेवानिवृत होने के बाद पेंशन व चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। इसके साथ ही ट्रेन द्वारा देश भर में कहीं भी सफर करने के लिए अधिकारियों को साल में तीन और कर्मचारियों को दो पास मिलते हैं। सेवानिवृत्त रेल कर्मचारी या अधिकारी अपने निवास स्थान के नजदीक रेलवे स्टेशन के अधीक्षक या अन्य रेलवे आफिस से पास प्राप्‍त करते हैं। सेवानिवृत्त कर्मचारी कहां से पास चाहते हैं, यह उन्‍हें ही तय करना पड़ता है। ऐसे रेलवे कर्मचारी जिसका निवास स्थान पहाड़ या ऐसी जगह पर है, जहां नजदीक में कोई बड़ा रेलवे स्टेशन नहीं हैं तो उन्‍हें यात्रा पास के लिए कई घंटे सफर करने के बाद नजदीक के रेलवे स्टेशन आना पड़ता है। कई घंटे इंतजार करने के बाद मैनुअल फ्री यात्रा पास मिलता है। यात्रा पास लेने के बाद आरक्षण टिकट के लिए बुकिंग काउंटर पर लाइन भी लगाना पड़ता है। रेलवे प्रशासन बुजुर्ग हो चुके रेल कर्मचारियों को घर बैठे पास व टिकट उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने जा रहा है। प्रवर मंडल कार्मिक अधिकारी अवधेश कुमार ने सभी अधिकारियों को आदेश जारी किया है कि सेवानिवृत्त कर्मचारी व विधवा को मिलने वाले फ्री यात्रा पास को ई पास मोड्यूल पर दर्ज करने की कार्रवाई करें। जिससे सेवानिवृत्त कर्मचारी भी घर बैठे ही ई पास ले सकें और घर से ही ट्रेन में आरक्षण कराने के लिए ई टिकट भी प्राप्त कर सकें। सेवानिवृत्त कर्मचारी को रेलवे की साइट पर जाकर एचआरएमएस का चयन करना पड़ेगा, रेलवे द्वारा उपलब्ध गोपनीय पासवर्ड का प्रयोग कर ई-पास प्राप्‍त क‍िया जा सकता है। 

यह भी पढ़ें :-

Yogi Adityanath in Moradabad : आज दोपहर 12 बजे पहुंचेंगे सीएम योगी आदित्‍यनाथ, ज‍िले के ल‍िए कर सकते हैं बड़ी घोषणा

Edited By: Narendra Kumar