मुरादाबाद, जेएनएन। Moradbabad Panchayat Election Voting ID Card Option : त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तिथि नजदीक आते ही यह चिंता होने लगती है कि वोट डालने जाते समय साथ में क्या ले जाना हाेगा। इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। राज्य चुनाव आयोग ने इसके लिए 17 विकल्प दिए हैं। प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को दिए जाने वाले पहचान पत्र दिखाकर भी वोट डाला जा सकता है। यदि कोई मतदान अधिकारी मना करता है तो कंट्रोल रूम में फोन करके शिकायत की जा सकती है।

जिला निर्वाचन अधिकारी डीएम राकेश कुमार सिंह ने बताया कि मतदान के दौरान किसी को भी समस्या नहीं होने दी जाएगी। राज्य चुनाव आयोग ने मतदान करने जाने के लिए 17 विकल्प दिए हैं। इनमें से कोई भी पहचान पत्र दिखाकर वोट डाला जा सकता है। इसके अलावा भी कोई ऐसा दस्तावेज जो परिवार के मुखिया के पास भी उपलब्ध होते हैं, वे परिवार के अन्य सदस्यों के लिए भी वैध माना जाएगा। बशर्ते सभी सदस्य एक साथ मतदान करने के लिए आएं। परिवार के मुखिया ही सभी सदस्यों की पहचान करें।

यह हैं मतदान करने के लिए विकल्प

भारत निर्वाचन आयोग का पहचान पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, आयकर पहचान पत्र, केंद्र, राज्य सरकार, सार्वजनिक उपक्रमों, स्थानीय निकायों और प्राइवेट लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी फोटोयुक्त पहचान पत्र, फोटो संपत्ति संबंधी मूल अभिलेख जैसे पट्टा, रजिस्ट्रीकरण डीड आदि फोटो किसान बही, फोटोयुक्त पेंशन अभिलेख, भूतपूर्व सैनिक पेंशन बुक, पेंशन भुगतान आदेश, वृद्धावस्था पेंशन, फोटोयुक्त स्वतंत्रता सेनानी पहचान पत्र, फोटोयुक्त शस्त्र लाइसेंस, फोटोयुक्त दिव्यांगता का प्रमाण पत्र, मनरेगा का फोटोयुक्त श्रम कार्ड, मंत्रालय द्वारा जारी बीमा स्मार्ट कार्ड, सांसद, विधायक और विधान परिषद सदस्यों को जारी किए गए पहचान पत्र, राशन कार्ड।

यह भी पढ़ें :-

Moradabad Coronavirus News : ज‍िले में पुलिस ने चिह्नित किए 74 हाॅट स्पाॅट, 14 इलाकों में बढ़ रहा कोरोना का संक्रमण

Road Accident : नेशनल हाईवे पर सब्जी से भरी मैक्स पलटी, अमरोहा के दो क‍िसानों की मौत, एक गंभीर

Panchayat Election 2021 : मुरादाबाद में चौंकाने वाला मामला, 20 साल पहले मौत, अब तक न‍िरस्‍त नहीं हो पाए हथ‍ियारों के लाइसेंस

Sikander alias Jigar Moradabadi Birth Anniversary : जिगर मुरादाबादी ने क‍िया था प्रेम व‍िवाह, अब घर में रहते हैं क‍िराएदार, यहां पढ़ें मशहूर शायर के जीवन के रोचक क‍िस्‍से

खेत में खाना लेकर जा रही क‍िशोरी से की थी छेड़खानी, कोर्ट ने दो दोषियों को सुनाई चार साल कारावास की सजा

Edited By: Narendra Kumar