मुरादाबाद, जेएनएन। मौसम खराब होने से हरिद्वार-लक्सर दोहरीकरण का काम समय से पूरा नहीं हो पाया है। इसके चलते रेलवे बोर्ड ने काम पूरा करने के लिए सात जनवरी तक रेल मार्ग बंद रखने का समय बढ़ाने के साथ ही 15 ट्रेनों को निरस्त कर दिया है। 

हरिद्वार कुंभ मेलेे के पहले लक्सर से हरिद्वार तक दोहरीकरण का काम पूरा किया जाना है। जिससे कुंभ मेला में कम समय में अधिक ट्रेनेें चलाई जा सकें। लक्सर से हरिद्वार 27 किलोमीटर सिंगल लाइन होने से लक्सर से हरिद्वार डेढ़ घंटे में ट्रेन पहुंचती है। दोहरीकरण के बाद ट्रेनें 35 मिनट में पहुंच पहुंचेगी। रेलवे बोर्ड ने 29 दिसंबर से पांच दिसंबर तक लक्सर-हरिद्वार-देहरादून रेल मार्ग बंद कर दिया था। रेल संचालन बंद होने के बाद पुराने पुल को तोड़ने, नई लाइन बिछाने, हरिद्वार स्टेशन के यार्ड को उच्चीकृत करने व आधुनिक उपकरण लगाए जाने का काम होना था। जिसका निरीक्षण पांच जनवरी को कमिश्नर रेलवे आफ सेफ्टी (सीआरएस) का निरीक्षण किया जाना था। रविवार से बारिश होने के कारण दोहरीकरण काम रुक गया। मंडल रेल प्रबंधन के प्रस्ताव पर रेलवे बोर्ड ने छह व सात जनवरी को हरिद्वार रेल मार्ग को बंद रखने का आदेश दिया है। 

इसकेे चलते छह व सात जनवरी को भी नई दिल्ली से देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस, काठगोदाम-देहरादून नैनी जनशताब्दी एक्सप्रेस, कटरा-ऋषिकेश एक्सप्रेस, बाडमेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस, प्रयागराज-देहरादून ङ्क्षलक एक्सप्रेस, मुजफ्फपुर-देहरादून एक्सप्रेस, गोरखपुर-देहरादून एक्सप्रेस, अमृतसर हरिद्वार एक्सप्रेस, लोकमान्य तिलक हरिद्वार एक्प्रेस,जबलपुर-हरिद्वार एक्सप्रेस, देहरादूनद-नई दिल्ली जनशताब्दी एक्सप्रेस, उदयपुर-हरिद्वार एक्सप्रेस, बलसाड-हरिद्वार एक्सप्रेस, बांद्रा-हरिद्वार एक्सप्रेस निरस्त कर दिया है। जबकि श्रीगंगा नगर-हरिद्वार एक्सप्रेस सहारनपुर तक आएगी। सहारनपुर-हरिद्वार के बीच यह ट्रेन निरस्त रहेंंगी। सहायक वाणिज्य प्रबंधक नरेश सिंह ने बताया कि हरिद्वार रेल मार्ग पर दोहरीकरण के काम के लिए सात जनवरी तक रेल मार्ग बंद कर दिया गया है। कार्य अधूरे होने के कारण सीआरएस ने मंगलवार को प्रस्तावित निरीक्षण स्थगित कर दिया है। माना जा रहा है कि सात जनवरी को सीआरएम निरीक्षण करने आएंगे और निरीक्षण करने के बाद सात जनवरी की रात में ही हरिद्वार दोहरीलाइन पर रेल यातायात शुरू कर दिया जाएगा। 

 

Edited By: Samanvay Pandey