Move to Jagran APP

2024 Cannes Film Festival; कान फिल्म फेस्टिवल में छाईं मेरठ की मानसी, दो और फेस्टिवल में लेंगी हिस्सा, हिंदी फिल्मों पर भी नजर

Meerut News कान में पुरस्कार पाने वाली मानसी की फिल्म बनीहुड का अगले माह होगा क्रोएशिया और कोसोवो के फिल्म फेस्टिवल में प्रदर्शन। छोटे शहरों में बड़ी प्रतिभाएं हैं। इसका नवीनतम उदाहरण मेरठ निवासी मानसी महेश्वरी हैं। उन्होंने एनीमेशन फिल्मों के क्षेत्र में करियर बनाने का निश्चय किया। ब्रिटेन के प्रतिष्ठित नेशनल फिल्म एंड टेलीविजन स्कूल के मास्टर्स डिग्री कोर्स में प्रवेश पाकर वहां बनीहुड फिल्म का निर्देशन किया।

By Praveen Vashistha Edited By: Abhishek Saxena Sat, 25 May 2024 12:25 PM (IST)
2024 Cannes Film Festival; मेरठ की मानसी ने कान में जीता अवॉर्ड

प्रवीण वशिष्ठ, मेरठ। 77वें कान फिल्म महोत्सव की ला सिनेफ प्रतियोगिता का तीसरा पुरस्कार मानसी माहेश्वरी की फिल्म 'बनीहुड' ने जीता है। इस फिल्म का सफर आगे भी जारी रहेगा। अगले माह क्रोएशिया के एनिमा फेस्ट और जुलाई में कोसोवो के एनीबार फिल्म फेस्टिवल में इसका प्रदर्शन होगा।

छात्र वर्ग से संबंधित है ला सिनेफ प्रतियोगिता

पल्लवपुरम क्षेत्र निवासी व्यवसायी नितिन महेश्वरी की पुत्री मानसी माहेश्वरी की एनीमेशन फिल्म 'बनीहुड' को तीसरा पुरुस्कार मिला। निफ्ट दिल्ली की छात्रा रहीं मानसी ने यूके के नेशनल फिल्म एंड टेलीविजन स्कूल की छात्रा के तौर पर यह फिल्म बनाई। कान में ला सिनेफ प्रतियोगिता छात्र वर्ग से संबंधित है। इस वर्ग में विश्व भर से लगभग ढाई हजार फिल्में प्राप्त हुई थीं। उनमें से 18 फिल्मों का चयन किया गया था।

ये भी पढ़ेंः यूपी के इस जिले में चला बुलडोजर तो कांप गए व्यापारी, कब्जा करने वालों से हुई तीखी बहस तो निगम ने नहीं दिया सामान

कान में सम्मान, एक सपने के पूरा होने जैसा

गुरुवार को फिल्म को तीसरा पुरस्कार देने की जैसे ही घोषणा हुई तो मानसी की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्हें स्टेज पर बुलाकर सम्मानित किया गया। इस दौरान मानसी ने आयोजकों का इस बात के लिए आभार व्यक्त किया कि उन्होंने लाइव एक्शन फिल्म और एनीमेशन में कोई फर्क नहीं करते हुए दोनों को एक ही वर्ग में रखकर पुरस्कार प्रदान किए। मानसी ने कान से फोन पर बताया कि कान जैसे प्रतिष्ठित फिल्म समारोह में सम्मान पाना एक सपने के पूरा होने जैसा है।

ये भी पढ़ेंः Badaun: गर्भ में क्‍या है? जानने के लिए हसिया से चीरा था पत्‍नी का पेट, उम्रकैद की सजा दिलाने वाली अनीता ने सुनाई आपबीती

फिल्म में मानसी ने निभाई तिहरी जिम्मेदारी

फिल्म के लिए उन्होंने और पूरी टीम ने बहुत मेहनत की थी। निर्देशन के साथ-साथ इसका लेखन भी उन्होंने किया। इसमें मुख्य किरदार बाबी को आवाज भी दी। यह फिल्म एक बच्ची की कहानी पर आधारित है, जिसे पेट में परेशानी होने पर उसकी मां झूठ बोलकर आपरेशन के लिए ले जाती है। थोड़ी सी अवधि में मां-बेटी के रिश्तों को बहुत भावनात्मक तौर पर व्यक्त किया गया है।

हिंदी फिल्मों का निर्देशन करने की भी इच्छा

मानसी का कहना है कि यूके में उनका दो वर्ष का कोर्स पूरा हो चुका है। अब वहीं एक हाफ एनीमेशन और हाफ लाइव एक्शन फिल्म पर काम कर रही हैं। आगे वाले समय में हिंदी फिल्मों का निर्देशन करने की भी इच्छा है। इसके लिए कुछ कहानियां भी लिख चुकी हैं। निर्देशकों में अनुराग कश्यप, मीरा नायर और अभिनेताओं में नसीरुद्दीन शाह सबसे अधिक पसंद हैं। 'बनीहुड' का अगले माह क्रोएशिया के एनिमा फेस्ट और जुलाई में कोसोवो के एनीबार फिल्म फेस्टिवल में प्रदर्शन होगा।