मेरठ, जेएनएन। मेरठ और आसपास जिलों में आज कई प्रमुख मामले चर्चा में हैं। यहां हम आपको ऐसी ही बड़ी खबरों को कम शब्दों में बताने जा रहे हैं। 

1: भारी वर्षा के कारण मैदान में भरा पानी, शामली की भर्ती स्थगित

मुजफ्फरनगर: लगातार हो रही भारी वर्षा के कारण नुमाइश मैदान में चल रही सेना भर्ती पर संकट के बादल मंडरा गए हैं। वर्षा के कारण मैदान में पानी भर गया। पानी भरने के कारण भर्ती प्रकिया को रोकना पड़ा। आज होने वाली शामली के युवाओं की भर्ती को स्थगित करना पड़ा। वर्षा के बावजूद भी शामली के युवा गुरुवार रात को ही भर्ती स्थल पर पहुंचना शुरू हो गए थे। भर्ती न होने पर निराश होकर लौटे युवाओं ने बताया कि अब शामली जनपद की भर्ती 11 अक्टूबर को होगी।

2: शामली से पीएफआइ का आतंकी कनेक्शन खंगाल रही एनआइए

शामली: गुरुवार को जांच एजेंसी द्वारा दबिश देकर पीएफआइ से जुड़े लोगों को हिरासत में लिया गया था। शामली जिले से पीएफआइ के दो सदस्य हिरासत में लिए गए हैं। दोनों से पूछताछ चल रही है। इसके साथ ही जांच एजेंसी ने शुक्रवार को शामली के अन्य पीएफआइ सदस्यों की भी जांच शुरू कर दी है। शामली से पीएफआइ के सदस्यों का आतंकी कनेक्शन खंगाला जा रहा है। यह भी पता किया जा रहा है कि किसी आतंकी संगठन द्वारा इनको फंडिंग तो नहीं की जा रही।  हालांकि स्थानीय पुलिस इस पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

3: देश का सबसे बड़ा इस्लामिक संगठन पीएफआइ, प्रतिबंध लगे: डा. सत्यपाल 

बागपत: वोकल फार लोकल कार्यक्रम के शुभारंभ पर बागपत के बड़ौत पहुंचे बागपत सांसद डा. सत्यपाल सिंह ने कहा कि इस्लाम को बढ़ावा देना ही पीएफआइ का उद्देश्य है। देश का इस्लामिक कट्टर संगठन पीएफआइ है। एक साथ 11 राज्यों में पीएफआइ संगठन पर हुई कार्रवाई काबिल-ए-तारीफ है। पूर्ण रूप से पीएफआइ पर प्रतिबंध की सांसद ने हिमायत की। कहा कि जनपद के उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए प्रचार और प्रसार की जरूरत है।

4: सड़क हादसे में उत्तराखंड पुलिस के आरक्षी की मौत, अन्य घायल

सहारनपुर: दिल्ली देहरादून हाईवे पर मोहंड से पहले बाइक व दो कारों की टक्कर हो गई। हादसे में बाइक पर सवार उत्तराखंड पुलिस के आरक्षी की मौके पर मौत हो गई, जबकि एक महिला सहित दो लोग घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए फतेहपुर अस्पताल भिजवाया गया। हादसा शुक्रवार की सुबह मोहंड से पूर्व राजाजी राष्ट्रीय नेशनल पार्क के सामने हुआ।

5: पूर्व परिवहन मंत्री ने कोर्ट में किया सरेंडर, जमानत

मुजफ्फरनगर: प्रदेश के पूर्व परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने 2013 में दंगे के दौरान दर्ज निषेधाज्ञा उल्लंघन के एक मुकदमे में कोर्ट में सरेंडर किया। उन्हें कोर्ट के आदेश पर हिरासत में लिया गया। जिसके उपरांत उनके अधिवक्ता की और से पेश प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने जमानत प्रदान कर दी। करीब तीन वर्ष पहले उनके कोर्ट से वारंट जारी हुए थे। 

यह भी पढ़ें: School Close: बरसात के कारण शनिवार को बंद रहेंगे मेरठ, मुजफ्फरनगर और बागपत के स्‍कूल

6: भाजपा नेता सुनील भराला को धमकी दिलाने वाला मारूफ हैदराबाद से गिरफ्तार 

मेरठ: उत्तर प्रदेश के श्रम कल्याण परिषद के निवर्तमान अध्यक्ष व भाजपा नेता सुनील भराला को धमकी दिलाने वाले मारूफ को हैदराबाद से गिरफ्तार कर लिया। वहां पर मारूफ हापुड़ में रहने वाले अपने एक दोस्त के घर में छुपा था। पुलिस की कई टीम इसकी 

तलाश में जुटी थीं।

Edited By: Parveen Vashishta