Move to Jagran APP

Rail Fare: रेल यात्रियों को बड़ी राहत! पैसेंजर ट्रेनों का घटा किराया, अब 10 रुपये में होगा सफर; नई किराया सूची जारी

शीर्ष रेलवे प्रबंधन की ओर से कोरोना काल के बाद पैसेंजर ट्रेनों के किराए की बढ़ी दरें अप्रैल माह से वापस ले ली गई हैं। इस रेलखंड की कुल लंबाई ही 35 किलोमीटर होने से यात्री इस मार्ग के किसी स्टेशन से किसी दूसरे स्टेशन तक मात्र 10 रुपये में ही सफर कर सकेंगे। सबसे ज्यादा कोपागंज या इंदारा से दोहरीघाट जाने वाले अब...

By Jaiprakash Nishad Edited By: Riya Pandey Sun, 26 May 2024 05:27 PM (IST)
Rail Fare: रेल यात्रियों को बड़ी राहत! पैसेंजर ट्रेनों का घटा किराया, अब 10 रुपये में होगा सफर; नई किराया सूची जारी
इंदारा-दोहरीघाट रेलखंड पर किराया घटने से यात्री खुश

संवाद सहयोगी, मऊ। शीर्ष रेलवे प्रबंधन की ओर से कोरोना काल के बाद पैसेंजर ट्रेनों के किराए की बढ़ी दरें अप्रैल माह से वापस ले ली गई हैं। इससे यात्रियों को अब 50 किलोमीटर से कम दूरी के सफर के लिए केवल 10 रुपये का किराया देना होगा। इससे इंदारा-दोहरीघाट नवनिर्मित रेलखंड पर चलने वाले यात्रियों में खुशी की लहर है।

इस रेलखंड की कुल लंबाई ही 35 किलोमीटर होने से यात्री इस मार्ग के किसी स्टेशन से किसी दूसरे स्टेशन तक मात्र 10 रुपये में ही सफर कर सकेंगे। सबसे ज्यादा कोपागंज या इंदारा से दोहरीघाट जाने वाले अब 30 रुपये की जगह 10 रुपये में सफर कर रहे हैं।

पहले यात्रियों को 30 रुपये देना पड़ता था किराया

नई दरों के हिसाब से इंदारा, कोपागंज, घोसी, अमिला व दोहरीघाट रेलवे स्टेशनों पर चस्पा किराया सूची संशोधित कर ली गई है। अभी तक नवनिर्मित इंदारा-दोहरीघाट रेलखंड पर केवल एक ही पैसेंजर ट्रेन चलाई जा रही है। शुरू में कोपागंज से घोसी जाना हो या दोहरीघाट यात्रियों को 30 रुपये देना पड़ता था।

ट्रेन का किराया बस से भी महंगा होने के चलते यात्री बस या आटो से ही चले जाते थे। अब ट्रेन का किराया बस व आटो से काफी कम हो जाने के चलते लोग ट्रेन का इंतजार कर उसी से जा रहे हैं। इससे इस रूट पर चलने वाली मेमू पैसेंजर ट्रेन में बड़ी संख्या में लोग सफर करने लगे हैं।

मऊ मंडल वाणिज्य निरीक्षक अखिलेश सिंह के अनुसार, पैसेंजर ट्रेनों के लिए अप्रैल माह में किराया संशोधित कर दिया गया था, अब 50 किमी से कम दूरी के किसी भी स्टेशन पर जाने के लिए मात्र 10 रुपये का टिकट दिया जाएगा। दूरी अधिक होने पर दूरी के हिसाब से किराया बढ़ेगा। 

यह भी पढ़ें- Mau News: अल्पसंख्यक के लिए संजीवनी साबित हुई सरकार की ODOP योजना, कारोबारियों के हुनर को मिली नई पहचान; 90% को मिला लाभ