मैनपुरी (जेएनएन)। समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव का पार्टी की बुरी हार का दर्द आज झलक आया। मैनपुरी में मुलायम सिंह पैक्सफेड चेयरमैन तोताराम यादव के होटल के उद्धघाटन मौके पर आये । उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से पहले सपा में जो फूट पड़ी थी। उसका असर अभी तक पिता मुलायम सिंह यादव और पुत्र अखिलेश यादव पर साफ़ देखा जा सकता है।मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश यादव को लेकर बड़ा बयान किया। 

तस्वीरों में देखें-जोगी रंग में रंगता जा रहा प्रदेश

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष रहे मुलायम सिंह ने कहा कि कन्नौज में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक बयान का उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में बड़ा असर हो गया। नरेंद्र मोदी ने कहा था कि जो बेटा अपने बाप का नहीं हो सकता है, वह आपका क्या होगा। अखिलेश यादव को लेकर आज मुलायम सिंह यादव ने कहा कि यह बात सही है। जो अपने बाप का नही हो सकता वो किसी का नही हो सकता। मुलायम ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कन्नौज की जनसभा में कहा कि जो बाप का नहीं हुआ वह किसी और का क्या होगा। इसका जनता पर असर हुआ और हम चुनाव हार गए। 

यह भी पढेंः योगी सरकार के एंटी रोमियो अभियान को हाईकोर्ट ने सही ठहराया

उन्होंने अखिलेश यादव पर राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद को लेकर बड़ा हमला कर दिया। मुलायम सिंह यादव ने कहा कि जो अपने बाप का नही हो सकता है, वो किसी का नहीं हो सकता है। उन्होंने कहा कि कोई बाप अपने बेटे को मुख्यमंत्री नहीं बनाता, लेकिन मैंने उसे मुख्यमंत्री बनाया।उन्होंने कहा कि कोई बाप अपने रहते अपने बेटे को मुख्यमंत्री नही बनता। मगर मैंने अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाया। इसके बाद भी मुझे बड़ा अपमान सहना पड़ा है। उन्होंने कहा कि मेरी जिंदगी ये मेरा सबसे बड़ा अपमान था। अखिलेश ने अपने ही चाचा को मंत्री पद से हटा दिया था।

यह भी पढेंः सर्वमान्य होने पर अखिलेश को मिला मुलायम का साथ

अखिलेश यादव को लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का बड़ा बयान, कहा कि अखिलेश के पास बुद्धि है पर वोट नहीं। अखिलेश ने कांग्रेस से गठबंधन किया, जिसने मुझ पर तीन बार जानलेवा हमला करवाया। मैं अब अखिलेश के भरोसे नहीं जनता के भरोसे पर रहूँगा। मुलायम ने आगे कहा कि जितना मेरा अपमान अब हुआ,  पहले कभी नहीं हुआ। अपनों ने ऐसा किया इसलिए कहने किससे जाते। दो लोगों ने मेरा अपमान किया। वो कौन हैं ये सब जानते हैं। मैं जनता की भावनाओं को ध्यान में रख फैसला करूँगा। कोई अपने बेटे को मुख्यमंत्री नहीं बनाता लेकिन मैंने बनाया। जो मेरे साथ हुआ वो सबके सामने है। पूरे भाषण में मुलायम ने चार बार अपमान की बात दोहराई। 

मुलायम ने कहा शिवपाल इतना अच्छा काम करते थे। अखिलेश ने उन्हें मंत्रिमंडल से निकाल दिया। जो नरेंद्र मोदी और अन्य नेता कह रहे हैं जो अपने बाप का नहीं हुआ वो किसी का नहीं हो सकता। ये कहने का मौका मेरे अपनों ने ही दिया। मुलायम ने कहा कि अखिलेश यादव ने अपने उस चाचा को ही मंत्री पद से हटा दिया था, जिसमें उसको जीवन की सही राह दिखाई। उन्होंने कहा कि मेरी जिंदगी के साथ ही मेरा सबसे अधिक अपमान हुआ है।

यह भी पढेंःसुबह मोदी की अगवानी के लिए रात दीवाली की तरह जगमगा रही संगमनगरी

सुप्रीम कोर्ट ही सुलझा सकती अयोध्या का मामला

मुलायम सिंह यादव ने इसके बाद अयोध्या मामले को लेकर कहा कि मेरी भी कोशिश रही थी अयोध्या मामले को सुलझाने की। अब तो सुप्रीम कोर्ट के सिवा और कोई पार्टी अयोध्या मामला नहीं सुलझा सकती। उन्होंने कहा कि वहां पर सुरक्षा बलों की कार्यवाही में 16 लोग मारे गये थे जबकि 84 लोग घायल हुए थे। अब तो सुप्रीम कोर्ट का फैसला सभी मानेंगे।

Edited By: Dharmendra Pandey