संवाद सहयोगी, कुलपहाड़ (महोबा) : बांदा-झांसी रेल ट्रैक के विद्युतीकरण का निरीक्षण सोमवार को रेलवे संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) करेंगे। रविवार को सभी रेलवे स्टेशनों पर युद्ध स्तर पर तैयारियां चलती रहीं। सीआरएस की अनुमति मिलने के बाद इस रूट पर इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनें चलने लगेंगी।

उत्तर मध्य रेलवे झांसी के जनसंपर्क अधिकारी मनोज ¨सह के अनुसार रेलवे संरक्षा आयुक्त लखनऊ अर¨वद जैन सोमवार को झांसी-मानिकपुर रेल खंड के हरपालपुर से खैरार एवं खैरार से हमीरपुर रेलवे लाइन के विद्युतीकरण का निरीक्षण करेंगे। सीआरएस की स्वीकृति मिलने के बाद इस रेल खंड पर डीजल इंजन के बजाय इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रेनों के संचालन का रास्ता खुल जाएगा। इसके अलावा कानपुर से झांसी के आवागमन का भी एक और ट्रैक चालू हो जाएगा। संभावना है कि रेलवे संरक्षा आयुक्त प्रथम चरण में मालगाड़ी चलाने की अनुमति दे सकते हैं। झांसी-मानिकपुर रेल खंड पर फिलहाल झांसी से खैरार तक ट्रैक का विद्युतीकरण हो चुका है। साथ ही इलेक्ट्रिक इंजन से ट्रैक का परीक्षण भी हो चुका है। खैरार से मानिकपुर तक विद्युतीकरण का काम भी जोर-शोर से चल रहा है जो अगले साल मार्च तक पूर्ण होने की संभावना है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021