Move to Jagran APP

Corona Vaccine: यूपी को 10 लाख टीके मिलने का इंतजार, अभी तक नहीं मिली वैक्सीन, 129 केंद्रों पर ही लग रहे टीके

Corona Vaccine UP चीन और जापान में कोरोना का नया वैर‍िएंट फैलने के बाद यूपी में सतर्कता डोज लगवाने के लिए टीकाकरण केन्‍द्रों पर भीड़ बढ़ रही है। वहीं अभी यूपी को दस लाख वैक्‍सीन म‍िलने का इंतजार है। फ‍िलहाल प्रदेश में 129 केंद्रों पर ही टीकाकरण हो रहा है।

By Jagran NewsEdited By: Prabhapunj MishraPublished: Wed, 11 Jan 2023 03:55 PM (IST)Updated: Wed, 11 Jan 2023 03:55 PM (IST)
Corona Vaccine In UP यूपी में कोरोना वैक्‍सीन की कमी

लखनऊ, राज्य ब्यूरो। Corona Vaccine In UP यूपी में कोरोना से बचाव के लिए चलाया जा रहा टीकाकरण अभियान काफी सुस्त गति से चल रहा है। वैक्सीन की कमी होने के कारण प्रदेश में अब सिर्फ 129 केंद्रों पर ही वैक्सीन लग पा रही है। करीब सवा लाख से डेढ़ लाख के बीच ही टीके बचे हैं और लगवाने वालों की भीड़ ज्यादा है। कमी को पूरा करने के लिए केंद्र सरकार ने 10 लाख टीके आवंटित किए थे, लेकिन यह अभी तक प्रदेश में नहीं पहुंच पाए हैं।

  • अभी तक कुल 17.69 करोड़ लोगों ने टीके की पहली और 16.88 करोड़ लोगों ने वैक्सीन की दूसरी डोज लगवाई है। वहीं 4.48 करोड़ लोगों ने सतर्कता (प्रीकाशन) डोज लगवाई है।
  • यानी दोनों टीके लगवा चुके सिर्फ 30 प्रतिशत लोगों को ही अभी तक सतर्कता डोज लग पाई है।
  • चीन सहित दूसरे देशों में कोरोना संक्रमण बढ़ने के बाद अब फिर लोग टीका लगवाने के लिए केंद्रों पर जुट रहे हैं, लेकिन वैक्सीन की कमी के कारण टीके नहीं लग पा रहे।
  • बीते 25 दिसंबर तक करीब 584 केंद्रों पर वैक्सीन लग रही थी लेकिन इसके बाद कमी के कारण केंद्रों की संख्या पहले 300 और अब घटकर सवा सौ के आसपास रह गई है।
  • सितंबर व अक्टूबर में करीब डेढ़ हजार टीकाकरण केंद्र बनाए जा रहे थे लेकिन तक सतर्कता डोज लगवाने के लिए पूरे दिन में इक्का-दुक्का लोग ही पहुंच रहे थे।

ऐसे में केंद्रों की संख्या धीरे-धीरे करके घटा दी गई। अब फिर दूसरे देशों में संक्रमण बढ़ता देख लोगों की भीड़ बढ़ रही है तो वैक्सीन की कमी है। फिलहाल केंद्रों को वैक्सीन की मांग पहले ही भेजी जा चुकी है। छोटे राज्यों में बचे हुए करीब 10 लाख टीके उसने अतिरिक्त देने पर हामी भरी थी ताकि अभी तुरंत टीके का संकट खत्म हो जाए। मगर हफ्ते भर से उसका भी इंतजार हो रहा है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.