Move to Jagran APP

Lok Sabha Election 2024: आम चुनाव तैयार कर रहा एक और 'चुनाव' की नींव, इस खास खबर में समझिए यूपी की 80 लोकसभा सीटों का 'रण'

विधायकी होते हुए सांसदी की परीक्षा देने वाले माननीयों में कितने पास होते हैं यह तो चार जून को नतीजे आने के बाद ही पता चलेगा लेकिन जीतने वालों को बड़ी पंचायत में बैठने के लिए विधानसभा या विधान परिषद की सदस्यता से इस्तीफा तो देना ही पड़ेगा। ऐसे में रिक्त होने वाली संबंधित विधानसभा सीटों पर निर्वाचन आयोग को लगभग ढाई वर्ष बाद फिर चुनाव कराना होगा।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Published: Sun, 21 Apr 2024 07:27 AM (IST)Updated: Sun, 21 Apr 2024 07:27 AM (IST)
आम चुनाव तैयार कर रहा एक और चुनाव की नींव

अजय जायसवाल जागरण लखनऊ। अठारहवीं लोकसभा का आम चुनाव राज्य में एक और चुनाव की नींव तैयार कर रहा है। देश की सबसे बड़ी पंचायत संसद के लिए हो रहे चुनाव में योगी आदित्यनाथ सरकार के तीन मंत्री सहित 14 विधायक भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

यूपी की 80 लोकसभा सीटों के लिए रण

प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों के लिए हो रहे चुनाव के मैदान में अबकी भाजपा सहित सपा, कांग्रेस, रालोद, निषाद पार्टी ने अपने-अपने विधायकों को भी उतारा है। वैसे तो किसी भी बड़ी पार्टी ने अभी तक अपने सभी प्रत्याशी घोषित नहीं किए हैं लेकिन जितने उम्मीद्वार सामने हैं उनमें 12 विधानसभा के जबकि दो विधान परिषद के सदस्य है।

चूंकि विधानसभा सदस्यों का चुनाव सीधे जनता ही करती है इसलिए चुनाव लड़ रहे 12 विधानसभा सदस्यों में जो भी सांसद बनने में कामयाब होगा उसकी रिक्त होने वाली विधानसभा सीट को भरने के लिए निर्वाचन आयोग नियमानुसार छह माह की अवधि में उपचुनाव कराएगा।

मैनपुरी लाेकसभा सीट पर जयवीर सिंह

मैनपुरी लोकसभा सीट पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की बहू और सपा मुखिया अखिलेश यादव की सांसद पत्नी डिम्पल यादव से मुकाबले को भाजपा ने योगी सरकार में पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ठाकुर जयवीर सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है। वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में मैनपुरी सीट से विधायक चुने गए जयवीर पर अब मैनपुरी संसदीय क्षेत्र में भी भाजपा का परचम लहराने की चुनौती है।

योगी सरकार में राजस्व राज्य मंत्री अनूप प्रधान वाल्मीकि को भाजपा ने हाथरस सुरक्षित सीट से प्रत्याशी बनाया है। अनूप अलीगढ़ जिले की खैर सुरक्षित सीट से विधायक हैं। इसी तरह गाजियाबाद से विधायक डा. अतुल गर्ग को भाजपा ने गाजियाबाद लोकसभा सीट का प्रत्याशी बनाया है।

नगीना की सीट है बसपा के कब्जे वाली

अभी बसपा के कब्जे वाली नगीना सुरक्षित लोकसभा सीट पर भाजपा ने बिजनौर जिले की नहटौर सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र के अपने विधायक ओम कुमार पर दांव लगाया है। संगम नगरी प्रयागराज के फूलपुर विधानसभा क्षेत्र से विधायक प्रवीण पटेल फूलपुर संसदीय क्षेत्र के चुनावी दंगल में भाजपा प्रत्याशी के तौर पर ताल ठोंक रहे हैं।

भाजपा के एनडीए में शामिल रालोद और निषाद पार्टी के एक-एक विधायक भी सांसदी के चुनाव मैदान में हैं। रालोद ने अपने कोटे वाली दो लोकसभा सीटों में से एक बिजनौर संसदीय क्षेत्र के मैदान में मुजफ्फरनगर जिले की मीरापुर विधानसभा सीट से चुने गए अपने विधायक चंदन चौहान पर दांव लगाया है। इसी तरह निषाद पार्टी के मिर्जापुर जिले की मझवां विधानसभा सीट से विधायक डा. विनोद कुमार बिन्द को भाजपा ने भदोही लोकसभा क्षेत्र से प्रत्याशी बनाया है।

ये भी पढ़ेंः UP Weather: यूपी के 15 जिलों में हीट वेव के साथ लू का अलर्ट जारी, 45 डिग्री पहुंचेगा तापमान, भीषण गर्मी के लिए रहिए तैयार

सपा ने भी चार विधायकों को उतारा

  • सत्ताधारी भाजपा ही नहीं सपा ने भी अपने चार विधायकों को लोकसभा चुनाव में उम्मीद्वार बनाया है। प्रतिष्ठित लखनऊ लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को चुनौती पेश करने के लिए सपा ने लखनऊ मध्य विधानसभा सीट से अपने विधायक रविदास मेहरोत्रा को मैदान में उतारा है।
  • रामलला की नगरी अयोध्या वाली फैजाबाद लोकसभा सीट पर भाजपा के मौजूदा सांसद लल्लू सिंह से मुकाबला करने के लिए सपा ने मिल्कीपुर सुरक्षित सीट से अपने विधायक अवधेश प्रसाद को उम्मीद्वार बनाया है।
  • अंबेडकर नगर लोकसभा सीट पर कटेहरी से विधायक लालजी वर्मा को भी सपा ने टिकट दिया है।
  • सपा ने अपने कब्जे वाली संभल लोकसभा सीट से एक बार फिर टिकट तो शफीकुर्रहमान बर्क को ही दिया था लेकिन अचानक बर्क की मृत्यु होने पर पार्टी ने उनके पोते जियाऊर्रहमान बर्क को संभल से प्रत्याशी बनाया है। जियाऊर्रहमान मुरादाबाद की कुन्दरकी विधानसभा क्षेत्र से सपा के टिकट पर वर्ष 2022 में विधायक चुने गए थे।

Lok Sabha Election 2024: भाजपा को मोदी का सहारा, कांग्रेस अल्पसंख्यकों के भरोसे; ग्रामीण क्षेत्र निभाएंगे अहम भूमिका

कांग्रेस के मौजूदा दो विधायक भी मैदान में

कांग्रेस के मौजूदा दो विधायकों में महराजगंज जिले की फरेन्दा विधानसभा सीट से चुने गए वीरेन्द्र चौधरी भी अब सांसद बनने के लिए किस्मत आजमा रहे हैं। कांग्रेस ने सपा से गठबंधन के तहत मिली 17 सीटों में से महराजगंज लोकसभा सीट से वीरेंद्र को प्रत्याशी बनाया है। भाजपा ने एक बार फिर महराजगंज लोकसभा सीट पर केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी को उतारा है।

उच्च सदन के दो सदस्य भी चुनाव मैदान में

चुनाव लड़ रहे विधान परिषद (उच्च सदन) के दो सदस्यों में भाजपा के जितिन प्रसाद और बसपा के भीमराव अंबेडकर हैं। भाजपा ने पीलीभीत के सांसद फिरोज वरुण गांधी का टिकट काटकर अबकी योगी सरकार के लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद को मैदान में उतारा है।

जितिन 27 सितंबर 2021 को छह वर्ष के लिए विधान परिषद के सदस्य मनोनीत हुए थे। ऐसे में विधान परिषद के सदस्य के तौर पर जितिन का कार्यकाल 26 सितंबर 2027 तक का है। अब अगर जितिन पीलीभीत से सांसद चुने जाते हैं तो उन्हें परिषद की सदस्यता से इस्तीफा देना पड़ेगा। चूंकि जितिन मनोनीत कोटे से एमएलसी हैं इसलिए उनके इस्तीफे से रिक्त सीट पर योगी सरकार किसी और को राज्यपाल के माध्यम से सीधे मनोनीत कर सकती है।

बसपा ने भी अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हरदोई सीट से अपने विधान परिषद सदस्य भीमराव अंबेडकर को टिकट दिया है। भीमराव अंबेडकर के सांसदी का चुनाव जीतने पर भी अलग से चुनाव कराने की आवश्यकता नहीं होगी क्योंकि उनका परिषद में छह वर्ष का कार्यकाल पांच मई को ही पूरा हो जा रहा है। भीमराव सहित परिषद के 13 सदस्यों के पांच मई को खत्म हो रहे कार्यकाल को देखते हुए निर्वाचन आयोग पहले ही चुनाव की प्रक्रिया पूरी कर चुका है।

चुनाव मैदान में उतरने वाले मंत्री

  • जितिन प्रसाद – लोक निर्माण मंत्री
  • जयवीर सिंह – पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री
  • अनूप प्रधान ‘वाल्मीकि’ – राजस्व राज्यमंत्री

विधायक जो आजमा रहे हैं किस्मत

भाजपा

  1. ओम कुमार - नगीना
  2. अतुल गर्ग - गाजियाबाद
  3. अऩूप प्रधान - हाथरस
  4. जयवीर सिंह – मैनपुरी
  5. प्रवीण पटेल – फूलपुर
  6. जितिन प्रसाद - पीलीभीत

सपा

  • रविदास मेहरोत्रा – लखनऊ
  • अवधेश प्रसाद - फैजाबाद
  • जियाउर्रहमान बर्क – संभल
  • लालजी वर्मा-अंबेडकर नगर

कांग्रेस

  • वीरेंद्र चौधरी - महराजगंज

बसपा

  • भीमराव अंबेडकर - हरदोई

रालोद

  • चंदन चौहान - बिजनौर

निषाद पार्टी

  • विनोद कुमार बिंद – भदोही 

राज्यसभा से भी लोकसभा पहुंचने की चाहत

भाजपा ने बलिया लोकसभा सीट से नीरज शेखर को प्रत्याशी बनाया है। नीरज वर्तमान में राज्यसभा के सदस्य हैं। बतौर राज्यसभा सदस्य नीरज का कार्यकाल 25 नवंबर 2026 तक का है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.