अयोध्या, जेएनएन। फैजाबाद स्थित छावनी में चल रही प्रादेशिक सेना भर्ती में भाग लेने आये युवकों ने मंगलवार को जमकर तोडफ़ोड़ की। सड़क किनारे लगे टै्रफिक साइन बोर्ड तक उखाड़ फेंके। वहीं, मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों ने मामले पर काबू पाया। 

बता दें, डोगरा रेजीमेंट की प्रादेशिक सेना भर्ती सोमवार से शुरू हुई हैं। पहले दिन बिहार व मध्यप्रदेश के अभ्यर्थियों ने सेना का हिस्सा बनने के लिए पसीना बहाया। वहीं, आज भर्ती का दूसरा दिन था। भर्ती में आये युवकों के लिए समुचित इंतजाम न किए जाने के आरोप तले कैंट से सटे सिविल लाइन इलाके में अराजकता फैलाई। जिसके चलते युवकों ने निजी परिसरों में भी घुसपैठ कर डेरा जमा लिया। भारी संख्या के कारण शुरू में पुलिस असहाय दिखाई पड़ी। वहीं, मामला बढ़ता देख हल्का बल प्रयोग करते हुए मामले का शांत कराया। 

14 अक्टूबर से शुरू हुईं सेना भर्ती 

डोगरा रेजीमेंटल सेंटर के ग्राउंड पर दोनों प्रांत के 7257 अभ्यर्थियों ने दौड़ लगाई, जिसमें 192 युवा उत्तीर्ण हुए। कमान अधिकारी कर्नल दिनेश कुमार, सूबेदार मेजर राजेश कुमार, मेजर एसके घुले, कैप्टन श्रीश पगार की निगरानी में प्रात: चार बजे से भर्ती प्रक्रिया शुरू हुई। दलालों पर नकेल के लिए भर्ती क्षेत्र में सेना के अधिकारी सक्रिय रहे। कर्नल दिनेश कुमार ने बताया कि भर्ती के लिए इच्छुक अभ्यर्थी अपने दस्तावेजों के साथ डीआरसी पीटी ग्राउंड पहुंचकर प्रक्रिया में हिस्सा ले सकते हैं। हवलदार जितेंद्र कुमार ने बताया कि डोगरा रेजीमेंट सेंटर में 153 इंफैंट्री बटालियन (प्रादेशिक सेना) मुख्यालय मध्य कमान के अंतर्गत आने वाली यूनिटों के लिए भर्ती प्रक्रिया चल रही है। 

 

Posted By: Divyansh Rastogi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप