Move to Jagran APP

Lalitpur News: घण्टाघर प्रांगण में ग्रामीण ने किया आत्मदाह का प्रयास, जय श्रीराम का नारा लगा उड़ेल लिया ज्वलनशील पदार्थ

नगर के हृदय स्थल घण्टाघर प्रांगण में शनिवार दोपहर एक ग्रामीण ने खुद पर ज्वलनशील पदार्थ डाल कर आत्मदाह का प्रयास किया। ग्रामीण को आग की लपटों से घिरा देख स्थानीय लोग और सिटि चौकी पुलिस कर्मी दौड़े और उन्होंने कपड़ा डालकर आग पर काबू पाया और उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है।

By Jagran News Edited By: Shoyeb AhmedSun, 21 Jan 2024 02:00 AM (IST)
घण्टाघर प्रांगण में एक आदमी ने किया आत्मदाह का प्रयास (फाइल फोटो)

राज्य ब्यूरो, ललितपुर। A Man Self Immolation: शनिवार दोपहर घण्टाघर प्रांगण में मौजूद लोगों में उस समय खलबली मच गई, जब यहां पर आए व्यक्ति ने जय श्री राम के नारे के साथ खुद पर ज्वलनशील पदार्थ उड़ेल कर आग लगा ली। इस दौरान गनीमत यह रही कि मौजूद लोगों और सिटी चौकी पुलिस कर्मियों ने दौडकर कपड़ा डालकर आग पर काबू पाया। उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया।

इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर डॉक्टर मानवेन्द्र सिंह ने बताया कि ज्वलनशील पदार्थ से व्यक्ति के दोनों हाथ व सिर के बाल तथा मामूली चेहरा झुलसा हुआ है, जो कि लगभग 15 फीसद प्रभावित हुआ है, प्राथमिक उपचार के बाद उसे वॉर्ड में शिफ्ट कर दिया गया है, जहां उसकी हालत खबरे से बाहर है।

पड़ौसी से चल रहा चबूतरे के स्वामित्व का विवाद

घण्टाघर प्रांगण में आकर आत्मदाह का प्रयास करने वाले विनोद (40) पुत्र बच्चू लाल नामदेव का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति से उसका चबूतरे के स्वामित्व को लेकर विवाद चल रहा है, जो कि न्यायालय में विचाराधीन है। लेकिन विपक्षी उस पर कब्जा करना चाहता है। आए-दिन उसकी झूठी शिकायतें करके उसे परेशान किया जा रहा है।

जब वह पुलिस से अवैध कब्जा की शिकायत करता है तो धारा 107/116 की कार्यवाही कर इतिश्री कर ली जाती है, वहीं विपक्षी अपनी बच्चियों से उसकी झूठी शिकायतें करा कर पेरशान कर रहा है, उसका कहना है कि योगी सरकार कह रही है कि कब्जा दिलाएंगे और पड़ोसी उसकी जमीन पर कब्जा कर रहे हैं, जिस पर कार्यवाही न होने के चलते उसे यह कदम उठाना पड़ा है।

आग से झुलसा चेहरा व हाथ

तालबेहट के चौबयाना निवासी विनोद नामदेव ने अपने ऊपर ज्वलनशील पदार्थ डाल लिया था, जिससे उसका चेहरा व हाथ झुलस गए। डॉक्टर के अनुसार उसकी हालत सामान्य व खतरे से बाहर है, विनोद का विपक्षी से चबूतरे के स्वामित्व का विवाद न्यायालय में चल रहा है।

इस सम्बन्ध में आज नगर पंचायत अध्यक्ष की मौजूदगी दोनों पक्षों में यह समझौता हुआ था कि दूसरा पक्ष दीवार बना लेगा, लेकन चबूतरे पर यथास्थिति बनी रहेगी। दूसरे पक्ष की ओर से विनोद एवं उसके परिजनों के खिलाफ न तो थाने में कोई शिकायती पत्र दिया है और न ही उसके खिलाफ कोई अभियोग पंजीकृत कराया गया है, प्रकरण की जांच कराई जा रही है, जो भी तथ्य सामने आएंगे, विधिक कार्यवाही की जाएगी।

ये भी पढ़ें- हिंदुत्व की राह पर आम आदमी पार्टी, प्राण प्रतिष्ठा से बड़ा कनेक्शन, सुंदरकांड पाठ के बाद करेगी ये काम