Move to Jagran APP

Kasganj News: मातम में बदली ईद की खुशियां, नहाने आए चार किशोर सहित पांच डूबे; रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

Kasganj News ईद-उल- फितर वाले दिन बड़ा हादसा हो गया। हजारा नहर स्थित झाल के पुल के पास नहाने आए आठ किशोरों में चार डूब गए। उन्हें बचाने के लिए नहर में कूदे युवक का भी पता नहीं चला है। डूबे सभी किशोर एटा के रहने वाले हैं। कल हुए इस हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन आज भी जारी है।

By Jagran News Edited By: Swati Singh Fri, 12 Apr 2024 11:34 AM (IST)
Kasganj News: मातम में बदली ईद की खुशियां, नहाने आए चार किशोर सहित पांच डूबे; रेस्क्यू ऑपरेशन जारी
मातम में बदली ईद की खुशियां, नहाने आए आठ किशोर सहित पांच डूबे

जागरण संवाददाता, कासगंज। ईद-उल- फितर वाले दिन बड़ा हादसा हो गया। हजारा नहर स्थित झाल के पुल के पास नहाने आए आठ किशोरों में चार डूब गए। उन्हें बचाने के लिए नहर में कूदे युवक का भी पता नहीं चला है। डूबे सभी किशोर एटा के रहने वाले हैं। इनकी तलाश में पीएसी की फ्लड यूनिट और गोताखोर टीम जुटी हुई है।

घटना गुरुवार करीब तीन बजे की है। ईद मनाने के बाद एटा के आठ किशोर ई-रिक्शा में सवार होकर हजारा नहर पर नहाने आए थे। सभी की उम्र 15 से 18 वर्ष के बीच में हैं। सभी किशोर नहाने को नहर में उतर गए। इसी बीच वीडियो बनाने के लिए चार किशोर बाहर निकल आए। वे वीडियो बना ही रहे थे कि नहा रहे चारों किशोर तेज धार में बह गए।

पांच लोग नदी में डूबे

वीडियो बना रहे किशोरों ने आवाज लगाई तो वहां मौजूद एटा निवासी युवक आसिफ ने नहर में छलांग लगा दी। वह भी पानी की तेज धार में बह गया। डूबने वालों में एटा के मोहल्ला मारहरा दरवाजा निवासी जाहिद (18) पुत्र मेंहदी हसन, नगला पोता निवासी सलमान (16) पुत्र युसूफ, शाहिद (17) पुत्र हमीद और अभिषेक (14)निवासी बहत्तरपुर एटा हैं। किशोरों को बचाने के लिए नहर कूदा आसिफ (20) पुत्र अकील खान भी नगला पोता का रहने वाला है। इनके साथ नहाने आए किशोर सुहेल पुत्र छोटे, रोहित पुत्र अफीक, फरमान पुत्र मुन्ने और फैजान पुत्र सत्तार हैं।

डीएम ने तत्काल चलाया रेस्क्यू अभियान

बच्चों के डूबने की खबर लगते ही डीएम सुधा वर्मा और एसपी अपर्णा रजत कौशिक समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। आधा दर्जन गोताखोरों के साथ ही पीएसी की फ्लड यूनिट को डूबे किशोरों की तलाश में लगाया गया है। हादसे की जानकारी पर ग्रामीण भी पहुंच गए। उन्होंने भी बचाने में सहयोग किया। 

यह भी पढ़ें: Route Divert In Kasganj: बरेली-बदायूं रूट पर ट्रैवल कर रहे हैं तो जान लीजिए सोमवती अमावस्या का रूट डायवर्जन