कानपुर, जागरण संवाददाता। अलीगढ़ से कानपुर तक जीटी रोड चौड़ीकरण में चौबेपुर और शिवराजपुर के बीच  बाधा बने धार्मिक स्थल को बुधवार पुलिस और प्रशासन ने हटवा दिया। धार्मिक स्थल बीच में होने के कारण हाईवे का डायवर्जन बाधित हो रहा था।

अलीगढ़ से कानपुर के बीच निर्माणाधीन राजमार्ग सिक्स लेन बनाने का कार्य तेजी से कराया जा रहा है। एनएचएआई को अक्टूबर 2023 तक निमार्ण पूरा करना है। निर्माण में चौबेपुर और शिवराजपुर के बीच में मरियानी गांव के पास धार्मिक स्थल बाधा बन रहा था। उसे हटाने को लेकर प्रशासन दो माह से प्रयास कर रहा था लेकिन संबंधित समुदाय के लोग विरोध कर रहे थे। 

बुधवार को बिल्हौर एसडीएम अलका लांबा की अगुवाई में धार्मिक स्थल के संरक्षक को बुलाया गया। इसके बाद शांतिपूर्ण ढंग से धार्मिक स्थल को हटवाया गया। इस दौरान भारी पुलिस बल मौजूद रहा। एसडीएम ने बताया कि धार्मिक स्थल हटाने को लेकर किसी भी तरह से कानून व्यवस्था नहीं बिगड़ी है और मौके पर शांति व्यवस्था बनी हुई है।

धार्मिक स्थल हटाने को लेकर हुआ था हंगामा

दो माह पहले एनएचआइ द्वारा धार्मिक स्थल हटाने का प्रयास करने के दौरान एक समुदाय के लोगों ने हंगामा किया था। इसके बाद जीटी रोड चौड़ीकरण का कार्य रोक दिया गया था। स्थानीय लोगों के मुताबिक धार्मिक स्थल करीब पचास साल बने बना था। इस बार प्रशासन ने बैठक करके पहले से तैयारी कर ली थी। एएसपी आउटर विजेंद्र द्विवेदी व एसडीएम अलका लांबा ने संरक्षक से बैठक कर धार्मिक स्थल हटाने को का समाधान निकाल लिया।

Edited By: Abhishek Agnihotri

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट