Move to Jagran APP

UP News: इंस्पेक्टर-दारोगा पर टिप्पणी करना पड़ा भारी, पुलिस ने तीन लोगों पर दर्ज किया वसूली-मानहानि का मुकदमा

UP Police पुलिस पर आरोप लगाकर वाट्सएप ग्रुप में टिप्पणी करना तीन लोगों को भारी पड़ गया। किदवई नगर थाना प्रभारी ने टिप्पणी करने वाले तीन लोगों के खिलाफ खुद वादी बनकर वसूली करने मानहानि अपमानित करने आइटी एक्ट की धारा में मुकदमा किया है। किदवई नगर थाना प्रभारी बहादुर सिंह के मुताबिक सोमवार रात एक वाट्सएप ग्रुप पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ कई टिप्पणियां की गई थीं।

By Jagran News Edited By: Abhishek Pandey Published: Wed, 29 May 2024 09:47 AM (IST)Updated: Wed, 29 May 2024 09:47 AM (IST)
इंस्पेक्टर-दारोगा पर टिप्पणी, तीन पर वसूली-मानहानि का मुकदमा

जागरण संवाददाता, कानपुर। पुलिस पर आरोप लगाकर वाट्सएप ग्रुप में टिप्पणी करना तीन लोगों को भारी पड़ गया। किदवई नगर थाना प्रभारी ने टिप्पणी करने वाले तीन लोगों के खिलाफ खुद वादी बनकर वसूली करने, मानहानि, अपमानित करने, आइटी एक्ट की धारा में मुकदमा किया है।

किदवई नगर थाना प्रभारी बहादुर सिंह के मुताबिक, सोमवार रात एक वाट्सएप ग्रुप पर पुलिसकर्मियों के खिलाफ कई टिप्पणियां की गई थीं। इसमें अभिनव नाम के युवक ने लिखा था कि पुलिस चौकी में शाहिद नाम के युवक को पिछले 24 घंटे से हिरासत में लेकर एक लाख दस हजार रुपये मांगे गए।

उपनिरीक्षक प्रियांशु दीक्षित पर शाहिद के स्वजन पर दबाव बनाने की बात भी लिखी। इसी ग्रुप में आशीष अवस्थी के मोबाइल नंबर से भी क्षेत्र में कहीं दिनदहाड़े लूट की जानकारी मांगते हुए टिप्पणी की गई। अभिनव ने उप निरीक्षक प्रवास शर्मा पर भी शाहिद को लेकर समझौता करने जैसी टिप्पणी की। इसी ग्रुप पर दिवस पांडेय के नंबर से इंस्पेक्टर पर मादक पदार्थ बिकवाने को लेकर लिखा गया है। तीनों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

मामले में मंगलवार को आरोपित आशीष अवस्थी ने डीसीपी दक्षिण रवीन्द्र कुमार से मिलकर किदवई नगर थाना प्रभारी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए प्रार्थना पत्र दिया है।

मामले में इंस्पेक्टर वादी हैं इसलिए वह जांच नहीं कर सकते हैं। इसलिए एसीपी निर्णय लेंगे की किसको जांच सौंपनी है। थाने से इसकी रिपोर्ट उन्हें भेजी गई है। - रवीन्द्र कुमार, डीसीपी दक्षिण

इसे भी पढ़ें: वंदे भारत एक्सप्रेस में मेडिकल की छात्रा से टीटीई ने की छेड़खानी, GRP ने दर्ज किया केस


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.