औरैया, जेएनएन। नई दिल्ली से लखनऊ आ रही तेजस एक्सप्रेस अछल्दा रेलवे क्रासिंग पर शनिवार की रात दुर्घटनाग्रस्त होने से बची। क्रासिंग के नीचे से निकल रहा एक युवक ट्रेन के इंजन से टकरा गया। इसमें बाइक के परखच्चे उड़ गए और युवक की मौत हो गई। यह हादसा होते देख गेटबूम के पीछे खड़े वाहन सवारों व अन्य लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। उनकी चीख निकल गई। गेटमैन की सूचना पर पहुंची जीआरपी-आरपीएफ व कस्बा पुलिस ने शव क्राङ्क्षसग से बाहर कराया। क्षतिग्रस्त बाइक को हटाते हुए कंट्रोल रूम को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी।

देश की पहली निजी व सेमी हाई स्पीड ट्रेन तेजस एक्सप्रेस नई दिल्ली से लखनऊ जा रही थी। रविवार की रात करीब साढ़े सात बजे ट्रेन अछल्दा रेलवे स्टेशन को क्रास करने के बाद होम सिग्नल के पास की क्रासिंग से निकल रही थी। इसी दौरान बाइक सवार 30 वर्षीय सुरेश चंद्र निवासी थाना भरथना के गांव नगला दुली जनपद इटावा जबरन गेटबूम के नीचे से जबरन निकलने लगा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार उसे ट्रेन आने की जानकारी देते हुए गेटमैन ने चिल्लाते हुए पीछे हटने को कहा। जल्दबाजी के चक्कर में बाइक का अगल हिस्सा निकल रही ट्रेन के इंजन से टकरा गया। इसमें वह ट्रेन की चपेट में आ गया। उसकी मौत हो गई। हादसे की सूचना मिलने पर आनन-फानन जीआरपी के साथ आरपीएफ पहुंची। ट्रेन तेजस की चपेट में आने से तहस-नहस हुई बाइक को क्राङ्क्षसग से बाहर कराया गया। शव को कब्जे में लेकर जीआरपी ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। जैसा कि जीआरपी का कहना है कि हादसे में ट्रेन नहीं रुकी। युवक के पास से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान हो सकी। उधर, हादसे की जानकारी परिचालन कंट्रोल रूम को स्टेशन स्टाफ द्वारा दी गई।    

रिश्तेदार के यहां से लौट रहा था युवक : जैसा कि पुलिस का कहना है कि गांव हनमन्तपुर में बाइक युवक रिश्तेदारी से गांव लौट रहा था। अछल्दा स्टेशन मास्टर आस्तिक  कुमार के अनुसार हादसे में ट्रेन के संचालन पर कोई फर्क नहीं पड़ा। जामा तलाशी में पत्नी गीता देवी का आधार कार्ड मिला। जिससे मृतक की शिनाख्त हो सकी। स्वजन को हादसे की जानकारी दी गई है। 

Edited By: Shaswat Gupta