उन्नाव, जेएनएन। माखी दुष्कर्म कांड के सजायफ्ता पूर्व विधायक कुलदीप सिंह की बेटी, कांग्रेस नेताओं के खिलाफ मुखर हो गईं हैं। उन्होंने नई दिल्ली की कांग्रेस नेता अलका लांबा और धारणा पटेल पर झूठा प्रचार करने पर नाराजगी जाहिर की है। दोनों नेताओं के खिलाफ उन्होंने एसपी उन्नाव को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की मांग की है। उधर लखनऊ में भी अलका लांबा के खिलाफ पीएम-सीएम के खिलाफ टिप्पणी करने पर मामला दर्ज हुआ है।

सजायफ्ता पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर की बेटी ने ट्वीटर पर पिता की जमानत होने का झूठ फैलाने को लेकर कांग्रेसी नेताओं के खिलाफ मोर्चा खोला है। पूर्व विधायक और भाजपा के शीर्ष नेताओं के खिलाफ ट्विटर पर अभद्र टिप्पणी को लेकर नाराजगी जताई है। एसपी को दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया कि उनके पिता सीबीआई की ओर से दर्ज कराए गए मुकदमों में तीस हजारी कोर्ट दिल्ली से सजा पाने के बाद दिल्ली की ही तिहाड़ जेल में बंद हैं। इसमें सीबीआई द्वारा दर्ज कराए गए मामलों में उन लोगों की अपील उच्च न्यायालय नई दिल्ली में विचाराधीन है। जिसकी सुनवाई एक जून को होनी है।

बताया है कि मामले में किसी भी प्रकार की जमानत नहीं मांगी गई है। इसके बावजूद कांग्रेस की नेता अलका लांबा निवासी टैगोर गार्डन नई दिल्ली और धारणा पटेल ने अपने ट्विटर अकाउंट से उनके पिता कुलदीप सेंगर व भाजपा के शीर्ष नेताओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की है, जिसमें भाजपा नेताओं के साथ ही उनके पिता पर गंभीर आरोप भी लगाए गए हैं। प्रार्थना पत्र में मांग की कि दोनों नेताओं के खिलाफ आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज करके उचित कार्रवाई की जाए। एसपी ने प्रार्थना पत्र लेकर सदर कोतवाली प्रभारी को जांच करने के निर्देश दिए हैं।

यह भी पढ़ें -

पीएम-सीएम के खिलाफ टिप्पणी करने पर अलका लांबा के खिलाफ लखनऊ में मामला दर्ज

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप