कानपुर, जागरण संवाददाता। आइआइटी में आयोजित प्लेसमेंट ड्राइव में चार दिन के दौरान ही देश-विदेश की नामी कंपनियों ने 940 छात्र-छात्राओं को नौकरी का प्रस्ताव दिया, जिसमें 773 ने इसे स्वीकार कर लिया। कोर्स पूरा होने के बाद वे कंपनियां ज्वाइन करेंगे। खास बात यह है कि एक छात्र और एक छात्रा को करीब दो करोड़ रुपये का पैकेज मिला है। कुल 49 छात्र-छात्राओं को एक करोड़ रुपये से ज्यादा वेतन मिलेगा। करीब 150 छात्र ऐसे हैं, जिन्हें एक से ज्यादा कंपनियों के प्रस्ताव मिले। निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने छात्र-छात्राओं को बधाई दी है।

प्रो. कौस्तुभ कुलकर्णी ने बताया कि आइआइटी में इस बार विभिन्न कंपनियों ने बड़े प्रस्ताव दिए। स्नातक और स्नातकोत्तर छात्र-छात्राओं के लिए एक दिसंबर को प्लेसमेंट ड्राइव की शुरुआत हुई थी। दो दिन में ही करीब 400 से ज्यादा छात्र-छात्राओं को नौकरी का प्रस्ताव मिल गया। चौथे दिन के अंत तक कुल 940 प्रस्ताव मिले। जिन 773 छात्र और छात्राओं ने प्रस्ताव स्वीकार किए, उनमें 55 प्रतिशत स्नातक और 45 प्रतिशत स्नातकोत्तर हैं। जाब के प्रस्ताव के इस आंकड़े से इतर प्री-प्लेसमेंट आफर्स (पीपीओ) के तहत 156 प्रस्ताव पहले ही स्वीकार किए जा चुके हैं। पिछले वर्ष की अपेक्षा चौथे दिन के अंत में कोर सेक्टर की कंपनियों से आए 109 प्रस्ताव को मिलाकर करीब 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। कोर सेक्टर की कंपनियों से प्रस्ताव 97 छात्रों ने स्वीकार किए हैं। इस बार 11.5  प्रतिशत नौकरियां ज्यादा मिली हैं। दूसरी ओर, 16 स्टार्टअप कंपनियों ने भी अब तक 45 नौकरियों के प्रस्ताव  दिए हैं।

अंतरराष्ट्रीय कंपनियों से 47 प्रस्ताव, अधिकतम सीटीसी 2,74,250 डालर

चौथे दिन के अंत तक छात्रों को अंतरराष्ट्रीय कंपनियों की ओर से नौकरी के लिए 47 प्रस्ताव मिले। पिछले वर्ष यह आंकड़ा महज 19 था। इस वर्ष ढाई गुना ज्यादा प्रस्ताव मिले हैं। संस्थान के अधिकारियों ने बताया कि अब तक अंतरराष्ट्रीय कंपनी की ओर से उच्चतम पैकेज 2,74,250 अमेरिकी डालर (2.07) करोड़ और घरेलू कंपनी की ओर से 1.20 करोड़ रुपये का आया है। एक अन्य छात्र को भी करीब 1.97 करोड़ रुपये का प्रस्ताव है।

इन कंपनियों ने लिया साक्षात्कार, न्यूनतम पैकज 11 लाख रुपये सालाना

एक्सट्रिया, ईएक्सएल, ग्रेविटान, गोल्डमैन सैचस, आइसीआइसीआइ बैंक, इंटेल, माइक्रोसाफ्ट, ओला, रुब्रिक, सैमसंग, क्वाडआइ, उबर जैसी 216 शीर्ष कंपनियों ने छात्र-छात्राओं के आनलाइन साक्षात्कार लिए हैं और भर्ती प्रक्रिया पूरी की है। छात्रों को न्यूनतम पैकेज 11 लाख रुपये सालाना का प्रस्ताव दिया गया है। हालांकि कुछ छात्र अन्य कंपनियों के प्रस्ताव का इंतजार कर रहे हैं। अगले कुछ दिनों में और कंपनियां भी साक्षात्कार लेंगी।

बोले जिम्मेदार: आइआइटी अकादमिक उत्कृष्टता के लिए दुनिया भर में जाना जाता है। यही भरोसा विभिन्न नियोक्ताओं को संस्थान की ओर खींचता है। प्लेसमेंट ड्राइव में छात्र-छात्राओं को अच्छे जाब आफर मिले हैं। हम आश्वस्त हैं कि प्लेसमेंट सीजन में बाकी छात्रों को भी बेहतर प्रस्ताव मिलेंगे। - प्रो. अभय करंदीकर, निदेशक आइआइटी

Edited By: Abhishek Agnihotri