Move to Jagran APP

सांसद चंद्रशेखर बोले-121 मौतों के जिम्मेदार 'साकार विश्व हरि' व सरकार, पीड़ित परिवारों को एक करोड़ की सहायता दें बाबा

Hathras Stampede MP Chandrashekhar Slams Government हाथरस जिले में भगदड़ के बाद 121 लोगों की मौत पर राजनीति अभी ठंडी नहीं हुई है। असपा के सांसद चंद्रशेखर ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की और उन्हें पाखंडी बाबाओं से दूर रहने की सलाह दी। चंद्रशेखर ने कथित बाबा को आड़े हाथाें लेते हुए करारे हमले किए। कहा−बाबा बड़े आदमी फिर भी मदद के लिए नहीं आए।

By Jagran News Edited By: Abhishek Saxena Tue, 09 Jul 2024 09:00 AM (IST)
हाथरस के गांव सोखना में मृत सोनदेवी व राजकुमारी के स्वजन को सांत्वना देते नगीना सांसद चंद्रशेखर आजाद l जागरण

जागरण संवाददाता, हाथरस। सिकंदराराऊ सत्संग हादसे के लिए साकार विश्व हरि, प्रशासन व सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। सरकार को इस हादसे में जान गंवाने वालों के स्वजन को मुआवजा दो लाख से बढ़ाकर 25 लाख रुपये कर देना चाहिए। बाबा को सरकार का पूरा संरक्षण है। इसीलिए एफआईआर में साकार हरि का कहीं नाम नहीं है। इतने बड़े हादसे से सरकार बच नहीं सकेगी। उसे कठोर कदम उठाने होंगे।

ये बातें नगीना के सांसद व आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने सोमवार को गांव में सोखना में मृतकों के परिवारों से मुलाकात के दौरान कही। वे सबसे पहले विनोद कुमार के घर पहुंचे।

सिकंदराराऊ हादसे में उनके परिवार से मां जयमंती, पत्नी राजकुमारी व पुत्री भूमि की मौत हुई है। उन्होंने पीड़ित परिवार को सांत्वना दी। हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। इसके बाद वे मृतका सोनदेवी के स्वजन के घर गए। यहां भी उन्होंने पीड़ित परिवार को ढाढ़स बंधाया।

हाथरस में भगदड़ वाले हादसे की जगह लोग आज भी रुक जाते हैं।

इस दौरान उन्होंने सभी लोगों से कहा कि हम बाबा साहब डा. भीमराव आंबेडकर को मानने वाले हैं। ऐसे पाखंडी बाबाओं पर हमको विश्वास नहीं करना चाहिए। उनके साथ असपा व भीम आर्मी के मथुरा, आगरा, अलीगढ़ से लोग सोखना पहुंचे थे।

ये भी पढ़ेंः हाथरस मामला: SIT ने शासन को भेजी रिपोर्ट, 5 दिन में क्या-क्या हुआ? इन सवालों के जवाब ढूंढने में हुई देरी

पीड़ित परिवारों को एक-एक करोड़ की सहायता दें साकार हरि

असपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि साकार विश्व हरि बहुत बड़े आदमी हैं। फिर इस घटना के पीड़ितों की मदद करने क्यों नहीं आगे आ रहे हैं। उन्हें मृतकों के परिवारों को एक-एक करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता देनी चाहिए।

ये भी पढ़ेंः आगरा के जिस घर से शुरू हुआ था सूरजपाल का 'पाखंड'; वहां धरने पर बैठा व्यक्ति, जिम्मेदारों की गिरफ्तारी की मांग

सांसद चंद्रशेखर ने कहा, कि ऐसे पाखंडियों से लोगों को बचना चाहिए। बाबा देश चलाएंगे तो इस तरह की घटनाएं होंगी। सिकंदराराऊ सत्संग हादसे के लिए साकार हरि बराबर के दोषी हैं।