गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर के गीडा इलाके की एक महिला ने अपने ही गांव के युवक पर पहले यौन शोषण करने और अब आपत्तिजनक वीडियो वायरल करने की धमकी देकर धर्म परिवर्तन का दबाव बनाने का आरोप लगाया है। इस संबंध में पुलिस आरोपित युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। दोनों के अलग-अलग समुदाय से संबंधित होने की वजह एहतियात के तौर पर गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

गांव में पुलिस तैनात, हिरासत में लेकर आरोपित से चल रही पूछताछ

महिला का पति बाहर रहता है। उसका संबंध गांव के ही एक युवक से हो गया। आरोप है कि उसने मौका देखकर मोबाइल फोन से महिला का आपत्तिजनक वीडियो बना लिया। कुछ दिन से महिला पर धर्म परिवर्तन कर अपने साथ रहने का दबाव बना रहा था। महिला इसके लिए तैयार नहीं हुई तो वह उसकी आपत्तिजनक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल करने की धमकी देने लगा। इससे परेशान महिला ने इस बारे में पति को बताया। पति ने युवक को फोन कर फटकार लगाई तथा महिला के मायके वालों को भी जानकारी दी।

मायके के लोग सोमवार को उसके घर पहुंचे। महिला को साथ लेकर गीडा थाने पहुंचे और तहरीर दी। इस बीच इसकी जानकारी गांव के लोगों को भी हो गई। धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश का मामला सामने आने के बाद महिला के समुदाय से जुड़े लोग आक्रोशित हो गए। गांव में तनाव को देखते हुए पुलिस तैनात कर दी गई है। गीडा थाना प्रभारी डीके सिंह ने बताया कि मामला दो समुदायों से जुड़ा होने की वजह से गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

तीन दिन बाद मिला बच्ची का शव, ग्रामीणों का हंगामा

गगहा क्षेत्र में हत्या कर फेंकी गई नौ साल की बच्ची का शव एसडीआरएफ ने बरामद किया। आक्रोशित ग्रामीणों ने पोस्ट आफिस के सामने शव रखकर गोरखपुर-वाराणसी मार्ग पर जाम लगाने का प्रयास किया। पुलिस टीम के साथ पहुंचे सीओ बांसगांव ने समझा-बुझाकर शांत कराया। तीन दिन पहले आरोपित ने जहां फेंका था वहां से तीन किमी दूर नदी में शव मिला। हत्या का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। गिरफ्तार आरोपित को जेल भेज दिया गया।

गगहा की रहने वाली अनीता की पड़ोस में रहने वाले युवक जयवीर ने गला दबाकर हत्या कर दी थी। शव को कोठा के पास राप्ती नदी में फेंक दिया था। गिरफ्तार आरोपित की निशानदेही पर बच्ची के शव की तलाश चल रही थी। आरोपित ने पुलिस को बताया कि मछली मारने के बहाने अनीता को अपने साथ ले गया था। मछली के तालाब पर न जाकर उसे गांव के नौका टोला पर ले गया, जहां एक दुकान से बच्ची के लिए टाफी व अपने लिए लिए गुटखा लिया। इसके बाद बच्ची को बाग की तरफ लेकर गया और हत्या कर दी। घरवालों ने खोजबीन शुरू की तो बोरे में शव को रखकर साइकिल से राप्ती नदी की तरफ निकल गया। राजपुर गांव के प्रधान अनिल पासवान के घर पर लगे सीसी कैमरे में वह कैरियर पर बोरा रखकर जाते हुए दिखा था। लौटते समय गांव के लोगों ने उसे पकड़ पुलिस को सौंप दिया था।

Edited By: Pradeep Srivastava