जागरण संवाददाता, गाजियाबाद

डासना के प्राचीन देवी मंदिर में बुधवार रात डकैतों ने धावा बोलकर पुजारी समेत तीन लोगों से मारपीट कर हजारों रुपये की नकदी तथा तीन मोबाइल फोन लूट लिये। वारदात में सात से आठ बदमाश शामिल थे। बदमाश मंदिर परिसर में सो रहे अन्य सेवादारों के कमरे खुलवा पाते इससे पहले ही शोर शराबा सुनकर सुरक्षा गार्ड ने उनके ऊपर फायरिंग कर दी। इससे घबराकर वह भाग खड़े हुए। मसूरी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

रात साढ़े बारह बजे प्राचीन देवी मंदिर के पीछे की दीवार को फांदकर बदमाश अंदर घुसे थे। सभी के चेहरे कपड़े से ढके हुए थे। हाथ में तमंचे, चाकू व कुल्हाड़ी थामे बदमाश पहले सीधा प्रथम तल पर पहुंचे। वहां एक कमरे में मंदिर के पुजारी सनोज शास्त्री तथा सेवादार मनोज दुबे सो रहे थे। बिजली नहीं आने के कारण दोनों ने कमरा खोला हुआ था। पुजारी एवं सेवादार दोनों से मारपीट कर बदमाशों ने उनके हाथ पैर बांध दिए। उनसे तीन हजार रुपये तथा दो मोबाइल फोन लूटकर बदमाशों ने दोनों से अन्य कमरों में सोए सेवादारों को आवाज लगाकर दरवाजा खुलवाने के लिए बोला। मना करने पर बदमाशों ने दोनों को जमकर पीटा। शोर शराबा सुन दूसरे कमरों में सोए सेवादारों ने दरवाजे अंदर से बंद कर लिए। जिससे बदमाश उन्हें नहीं लूट पाए।

बाहर से आकर रुके साधु भी लुटे

बदमाश इसके बाद भूतल पर आ गए। यहां कुछ दिन से हरि गिरी नामक साधु आकर ठहरे हुए थे। उनसे भी बदमाशों ने मारपीट कर 11 सौ रुपये व मोबाइल फोन लूट लिया। मंदिर के महंत के विषय में जानकारी होने से इन्कार करने पर हरि गिरी की गर्दन पर कुल्हाड़ी रखकर बदमाशों ने मारने की धमकी दी। इससे उनकी चीख निकल गई।

सुरक्षा गार्ड की बहादुरी से भागे

मंदिर के अंदर से आई चीख को सुनकर बाहर मौजद सुरक्षा गार्ड नारायण दुबे वहां पहुंचा। लोहे के दरवाजे से अंदर झांकने पर उसे बदमाश नजर आ आए। बदमाशों ने गार्ड को गेट खोलने को कहा। गार्ड ने तत्काल अपनी लाइसेंसी बंदूक निकालकर बदमाशों को ललकारा। यह देखकर एक बदमाश ने उसकी तरफ फायर कर दिया। सुरक्षा गार्ड ने इसके बाद बदमाशों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इससे डरे बदमाश दीवार फांदकर फरार हो गए। पुलिस की मानें तो गार्ड की बहादुरी के कारण बड़ी वारदात टल गई। मंदिर समिति की तरफ से इस मामले में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।

---------

-45 मिनट तक अटकी रही सांस

बदमाश साढ़े बारह बजे मंदिर में घुसे और रात सवा बजे तक मंदिर में मौजूद रहे। इस दौरान मंदिर में मौजूद पुजारी व सेवादारों के अलावा वहां ठहरे लोगों की सांसे अटकी रहीं। बदमाश लगातार उनको भयभीत कर रहे थे।

-आज होगी मंदिर में महापंचायत

मंदिर में डकैती के विरोध में हिंदू स्वाभिमान मंच शुक्रवार को मंदिर में पंचायत का आयोजन कर रहा है। संस्था के प्रांतीय महामंत्री अनिल यादव ने बताया कि पहले भी मंदिर में इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं। इसके बावजूद पुलिस सुरक्षा व्यवस्था की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रही है। इस घटना के बाद से लोगों में रोष है। इसके चलते पंचायत का आयोजन किया जा रहा है। लोगों के साथ बैठक कर आगे की रणनीति तय की जाएगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021