बरेली, जेएनएन: खनन माफिया के मददगारों का दुस्साहस ऐसा कि एसडीएम विशु राजा पर हमला करा दिया। सोमवार सुबह को अवैध खनन रोकने गए अधिकारी की कार के आगे बदमाशों ने अपना वाहन लगा दिया। उनके अर्दली, चालक, होमगार्डो को पीटा। हवाई फायरिग की। हालात देख एसडीएम को अपनी कार वहां से वापस लौटानी पड़ी। बाद में पहुंची पुलिस ने एक आरोपित मुनीष को गिरफ्तार कर लिया। तीन अन्य पर भी मुकदमा दर्ज किया गया है।

नकटिया नदी किनारे चावड़ गांव में खनन की सूचना पर एसडीएम विशु राजा सोमवार सुबह करीब छह बजे धरपकड़ करने पहुंचे। पहचान छिपाने के लिए वह निजी कार से थे, मगर पीछे बैठे अर्दली को देखकर खनन के आरोपित मामला समझ गए। तीन युवक आनन-फानन बुल्डोजर, टै्रक्टर-ट्राली लेकर नदी के पार निकल गए। चूंकि कार नदी में नहीं उतारी जा सकती थी, इसलिए एसडीएम ने पीछा करने के लिए रजपुरा माफी गांव वाले कच्चे रास्ते की ओर चलने को कहा। वह कुछ दूर बढ़े थे, इतने में उनकी कार के सामने माफिया के मददगारों ने अपने टवेरा गाड़ी लगाकर रोक लिया। उसमें से उतरे चार बदमाशों ने एसडीएम के चालक प्रेमराज को पीटना शुरू कर दिया। अर्दली मनोज और दोनों होमगार्ड बचाने को उतरे तो उनसे भी मारपीट हुई। इस बीच आरोपितों ने हवाई फायरिग शुरू कर दी तो हालात देख एसडीएम ने लौटने को कहा। वहां से हटने के बाद उन्होंने पुलिस को फोन किया तो इज्जतनगर थाने से फोर्स पहुंचा। गांव में दबिश देकर एक आरोपित मुनीष को गिरफ्तार कर लिया गया। उससे लाइसेंसी बंदूक भी मिली है। इंस्पेक्टर नीरज कुमार ने बताया कि मुनीष से पूछताछ में ऋषिपाल, लालकरन का नाम पता चला। एक अन्य की पहचान की जा रही है। सभी के खिलाफ बलवा, सरकारी कार्य में बाधा, जानलेवा हमला, मारपीट और खनन एवं खनिज अधिनियम में मुकदमा दर्ज किया गया है।

-------

खनन माफिया का नाम पता चला है, उसकी तलाश की जा रही है। उसी की मदद में आरोपितों ने स्टाफ से अभद्रता की। खनन माफिया को भी रंगेहाथ पकड़कर कार्रवाई की जाएगी।

-विशु राजा, एसडीएम, सदर

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप